पाकिस्तान में ऑडियो लीक को लेकर बवाल, कैसे ऑनलाइन बिक रही PMO की गुप्त बातें?

Pakistan
Creative Common
अभिनय आकाश । Sep 27, 2022 3:25PM
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीएम हाउस की करीब 100 घंटों की रिकॉर्डिंग डॉर्क वेब पर बिक रही है। कथित तौर पर पाकिस्तान सरकार के नेताओं के तीन ऑडियो क्लिप ऑनलाइन उपलब्ध हैं।

कल्पना करिए की जहां पर मुल्क का रहनुमा रहता हो वहां पर खुफिया मशीने लगी हैं। जो कुछ बातें होती हैं उसे कोई और भी सुन रहा हो और फिर उसे लीक करने लगे। कभी ऐसा हुआ तो जाहिर है कि मुल्क में राजनीतिक उठा पटक शुरू हो जाएगी। इन दिनों पाकिस्तान में कुछ ऐसा ही हो रहा है। वहां प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ और उनके पार्टी के नेताओं के कथित ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीएम हाउस की करीब 100 घंटों की रिकॉर्डिंग डॉर्क वेब पर बिक रही है। कथित तौर पर पाकिस्तान सरकार के नेताओं के तीन ऑडियो क्लिप ऑनलाइन उपलब्ध हैं, जिनमें से एक क्लिप में कथित तौर पर उच्च सुरक्षा वाले पीएम हाउस में सत्तारूढ़ पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के कई वरिष्ठ नेताओं के बीच की बातचीत के है।

इसे भी पढ़ें: F-16 पर अमेरिका की सफाई, बाइडन प्रशासन ने कहा- भारत और पाकिस्तान दोनों अलग-अलग तरह से हमारे साझेदार हैं

इसमें गृह मंत्री राणा सनाउल्ला, रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ, कानून मंत्री आजम तरार और आर्थिक मामलों के मंत्री अयाज सादिक को वित्त मंत्री मिफ्ताह इस्माइल की किस्मत और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के सांसदों के नेशनल असेंबली से इस्तीफे के बारे में बात करते हुए सुना जा सकता है। वहीं, एक अन्य ऑडियो क्लिप में कथित तौर पर पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरयम नवाज और प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के बीच वित्त मंत्री इस्माइल के बारे में बातचीत होती सुनाई देती है। तीन बार प्रधानमंत्री रहे नवाज शरीफ की बेटी मरयम का सरकार में काफी प्रभाव है और वह इस्माइल की आलोचक हैं। मरयम को इसमें यह कहते सुना जा सकता है, वह (इस्माइल) जिम्मेदारी नहीं लेता है... टीवी पर अजीब चीजें कहता है, जिसके लिए लोग उसका मजाक उड़ाते हैं...।’’ बीच में, प्रधानमंत्री शहबाज की आवाज सुनाई देती है। मरयम यह कहती सुनाई देती हैं, अंकल, उसे नहीं पता कि वह क्या कर रहा है।’’ इसके साथ ही वह पीएमएल-एन के दिग्गज इशाक डार की वापसी की कामना करती हैं, जिन्हें वित्त मंत्रालय का कार्यभार संभालने के लिए अगले सप्ताह वापस आने के लिए कहा गया है। दो क्लिप में पीएम शहबाज और अज्ञात अधिकारी मरियम की इच्छा के बारे में बात कर रहे थे कि उनके दामाद को भारत से कुछ मशीनरी आयात करने की अनुमति दी जानी चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान में प्रधानमंत्री, कैबिनेट मंत्रियों के ऑडियो लीक को लेकर बवाल, इमरान की पार्टी ने PMO की सुरक्षा पर उठाए सवाल

इमरान खान की पीटीआई के पूर्व सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने आरोप लगाया है कि सत्तारूढ़ दल पारिवारिक मामलों की सुरक्षा में अधिक रुचि रखता है। पीएम ऑफिस से बातचीत के लीक होने की बात करते हुए उन्होंने कहा कि देश की साइबर सुरक्षा की स्थिति को दिखाते हुए डेटा को डार्क वेब पर बिक्री के लिए पेश किया गया था। 

ऑडियो क्लिप को एक हैकर द्वारा ऑनलाइन बिक्री के लिए रखा गया जो 'इंडिशल' आईडी का उपयोग करता है। आईडी भारतीय हैकर्स के एक समूह का नाम है जो 2007 से पाकिस्तानी वेबसाइटों को निशाना बना रहे हैं। पहली और तीसरी ऑडियो क्लिप लगभग दो मिनट लंबी हैं, जबकि दूसरी 12 मिनट और 40 सेकंड लंबी है और सोशल मीडिया पर आसानी से साझा करने के लिए छह भागों में विभाजित है। 

अन्य न्यूज़