रूसी रक्षा मंत्री ने अमेरिका व अन्य पश्चिमी देशों पर यूक्रेन को हथियारों की आपूर्ति करने का आरोप लगाया

Sergei Shoigu
ANI Twitter.
उन्होंने कहा, विदेशी हथियारों की बढ़ती आपूर्ति स्पष्टरूप से कीव शासन को अंतिमयूक्रेनी नागरिक तक लड़ते रहने के लिए उकसाने केउनके इरादे का संकेत देती है।मास्को समर्थित अलगाववादी ज्यादातर रूसी भाषी क्षेत्र में पिछले आठ साल से यूक्रेनी सेना से लड़ रहे हैं।उन्होंने दो स्वतंत्र गणराज्यों की घोषणा कर दी है और रूस ने उन्हें मान्यता भी दे दी है।

मास्को| रूसी रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु ने अमेरिका और अन्य पश्चिमी देशों पर यूक्रेन को हथियारों की आपूर्ति करने का आरोप लगाया है ताकि अंतिम यूक्रेनी नागरिक तक लड़ाई जारी रह सके।

शोइगु ने मंगलवार को शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ एक बैठक में आरोप लगाया कि अमेरिका और उसके सहयोगी देश यूक्रेन में रूस के विशेष सैन्य अभियान को लंबा खींचने के लिए हरसंभव कोशिश कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, विदेशी हथियारों की बढ़ती आपूर्ति स्पष्ट रूप से कीव शासन को अंतिम यूक्रेनी नागरिक तक लड़ते रहने के लिए उकसाने के उनके इरादे का संकेत देती है। मास्को समर्थित अलगाववादी ज्यादातर रूसी भाषी क्षेत्र में पिछले आठ साल से यूक्रेनी सेना से लड़ रहे हैं। उन्होंने दो स्वतंत्र गणराज्यों की घोषणा कर दी है और रूस ने उन्हें मान्यता भी दे दी है।

रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध संबंधी अन्य अहम घटनाक्रम: सोफिया, बुल्गारिया - यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा का कहना है कि उनके देश की सुरक्षा का मतलब बुल्गारिया और सभी काला सागर देशों की सुरक्षा भी है। कुलेबा ने मंगलवार को अपने बुल्गेरियाई समकक्ष तेओदोरा जेनचोव्स्का के साथ बातचीत के बाद कहा, हम न केवल अपनी सुरक्षा के लिए लड़ रहे हैं।

हम आपके लिए भी लड़ रहे हैं, ताकि आपको अपने देश को प्रभावित करने और नुकसान पहुंचाने के रूसी प्रयासों की त्रासदी का सामना न करना पड़े। मास्को- रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा है कि यूक्रेन में रूस का अभियान एक नए चरण में प्रवेश कर रहा है।

लावरोव ने मंगलवार को एक भारतीय टेलीविजन प्रसारक के साथ एक साक्षात्कार में कहा, ऑपरेशन जारी है तथा इस ऑपरेशन का एक और चरण अब शुरू हो रहा है। लावरोव ने जोर दिया कि रूसी अभियान का मकसद ‘‘दोनेत्स्क और लुहांस्क गणराज्यों की पूर्ण मुक्ति है।’’ एम्स्टर्डम - वाहन निर्माता कंपनी स्टेलंटिस का कहना है कि प्रतिबंधों और साजोसामान समस्याओं के कारण वह रूस में अपना उत्पादन स्थगित कर रही है।

कंपनी ने मंगलवार को कहा कि वह अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों का पूर्ण अनुपालन सुनिश्चित करने के साथ ही अपने कर्मचारियों की रक्षा करना चाहती है। स्टेलेंटिस दुनिया में चौथी सबसे बड़ी वाहन निर्माता कंपनी है। कीव- यूक्रेन के खारकीव में हुए रूसी हमले में पांच नागरिकों की मौत हो गयी है।

पूर्वी यूक्रेन में एक क्षेत्रीय गवर्नर ने यह जानकारी दी। खारकीव क्षेत्र के गवर्नर ओलेह सिनयेहुबोव ने मंगलवार को कहा कि नगर के मध्य और बाहरी हिस्से में रूस के रॉकेट हमले में 17 निवासी घायल भी हुए हैं। खारकीव यूक्रेन का दूसरा सबसे बड़ा शहर है और 24 फरवरी को रूसी हमले की शुरुआत के बाद से ही यहां रूसी हमले हो रहे हैं।

मास्को - रूसी सेना ने मारियुपोल में यूक्रेनी सैनिकों को मंगलवार दोपहर तक आत्मसमर्पण करने का मौका देते हुए कहा है कि जो लोग आत्मसमर्पण करते हैं वे जीवित बच जाएंगे। सात सप्ताह तक शहर की रक्षा करने वाले यूक्रेनी सैनिक इस तरह के पिछले प्रस्तावों को नजरअंदाज करते रहते हैं। कोपेनहेगन (डेनमार्क) -डेनमार्क के प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिकसन ने मंगलवार को कहा किउनके देश को यथाशीघ्र रूसी गैस से स्वतंत्र होने की आवश्यकता है और उसे अपनी जरूरत के हिसाब से नवीकरणीय ऊर्जा विकसित करनी चाहिए। उन्होंने कहा, पुतिन को रोका जाना चाहिए। यूक्रेन में युद्ध ने हम सभी को प्रभावित किया है।’’

एथेंस - यूनान के अधिकारियों ने बताया कि उन्होंने रूस के खिलाफ यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों के तहत एजियन सागर में एक रूसी टैंकर को जब्त कर लिया है। यूनान के तटरक्षक बल ने बताया कि उसने 15 अप्रैल को एक तेल का टैंकर जब्त किया, जिसपर रूस का ध्वज लगा था।

इसमें रूस के चालक दल के 19 सदस्य थे। अभी इस टैंकर को इविया द्वीप के दक्षिणी तट पर केरीस्टोस की खाड़ी में रोककर रखा गया है। तटरक्षक ने बताया कि जब्ती आदेश जहाज से संबंधित है, न कि उसके सामान से। यूनान, यूरोपीय संघ का सदस्य है।

यूरोपीय संघ ने रूस द्वारा यूक्रेन पर आक्रमण करने के बाद रूस के खिलाफ व्यापक प्रतिबंध लगाए हैं, जिसका मकसद रूसी अर्थव्यवस्था और उसके राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की सरकार पर दबाव बनाना है। तोक्यो- रूसी सेना द्वारा रासायनिक हथियार के इस्तेमाल की बढ़ती चिंताओं के बीच जापान यूक्रेन को गैस मास्क, हैज़मैट सूट (खतरनाक सामग्री से बचाव करने वाला सूट) और ड्रोन भेजेगा।

जापान के रक्षा मंत्री नोबुओ किशि ने मंगलवार को बताया कि जापान यूक्रेन सरकार के अनुरोध पर रसायन रोधी आयुध उपकरण भेज रहा है। जापान ने यूक्रेन को पिछले महीने बुलेटप्रूफ जैकेट, हेलमेट और अन्य गैर घातक हथियार उपकरण भेजे थे।

जापान अन्य देशों को हथियार निर्यात नहीं करता है, लेकिन उसने यह कहकर यूक्रेन को छूट दी कि उस पर हमला किया गया है। यह खेप भेजे जाने के कारण जापान में विवाद खड़ा हो गया है, जिसका शांतिवादी संविधान युद्ध से दूर रहने की बात करता है।

किशि ने कहा, ‘‘अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर काम करना और अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन करने वाले रूस के हमले के खिलाफ कड़ा कदम उठाना, हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिहाज से भी बहुत महत्वपूर्ण है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़