Prabhasakshi Newsroom। क्या रूस पर विश्वास करेगा यूक्रेन ? सामने आया जेलेंस्की का चौंका देने वाला बयान

Prabhasakshi Newsroom। क्या रूस पर विश्वास करेगा यूक्रेन ? सामने आया जेलेंस्की का चौंका देने वाला बयान
प्रतिरूप फोटो

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा कि रूस के वार्ताकारों के साथ जारी वार्ता में कुछ सकारात्मक संकेत मिले हैं, लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि रूस पर विश्वास नहीं किया जा सकता। रूस ने तुर्की के इस्तांबुल में यूक्रेन और रूसी प्रतिनिधिमंडल के बीच हुई वार्ता के बाद ऐलान किया।

रूस और यूक्रेन के बीच 34 दिनों से युद्ध जारी है और 35वें दिन रूसी सैनिकों ने यूक्रेन की राजधानी कीव पर हमले तेज कर दिए हैं। जिसकी वजह से कीव समेत कई शहर खंडहर में तब्दील हो गए हैं। हालांकि युद्ध रुकने की उम्मीद नजर आ रही है। बीते दिनों दोनों देशों के नेताओं ने इस्तांबुल में मुलाकात की। जहां पर युद्धविराम को लेकर चर्चा हुई और अब माना जा रहा है कि यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की मुलाकात हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें: पश्चिमी देशों के प्रतिबंधों को दिखाया ठेंगा, भारत-रूस ने व्यापार का तरीका बदला 

क्या रूस पर विश्वास करेगा यूक्रेन ?

वोलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा कि रूस के वार्ताकारों के साथ जारी वार्ता में कुछ सकारात्मक संकेत मिले हैं, लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि रूस पर विश्वास नहीं किया जा सकता। रूस ने तुर्की के इस्तांबुल में यूक्रेन और रूसी प्रतिनिधिमंडल के बीच हुई वार्ता के बाद ऐलान किया कि रूस कीव और उत्तरी शहर चेर्नीहिव के निकट सैन्य अभियानों को कम करेगा। हालांकि अमेरिका समेत कई देशों ने रूस के इस ऐलान पर संदेह जताया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक पश्चिमी देशों के अधिकारियों ने कहा कि रूस पूर्वी यूक्रेन में सैनिकों का जमावड़ा कर रहा है लेकिन यह अभी नहीं कहा जा सकता कि क्या कीव के आसपास सैन्य अभियान कम करने का मॉस्को का दावा सही है। खुफिया जानकारी रखने वाले अधिकारियों ने बताया कि मॉस्को, यूक्रेन के सबसे प्रशिक्षित और उपकरणों से लैस सुरक्षाबलों को घेरने की कवायद के तौर पर डोनबास में सैन्य तैनाती मजबूत कर रहा है।

वहीं वोलोदिमिर जेलेंस्की ने एक वीडियो संबोधन में कहा कि यूक्रेन के सैनिकों के साहस और प्रभावी कार्रवाई ने रूस को कीव व चेर्नीहिव के आसपास कार्रवाई को कम करने पर मजबूर कर दिया। यूक्रेन वार्ता प्रक्रिया को जारी रखेगा। उन्होंने रूस के प्रतिनिधियों की तरफ से आ रहे बयानों पर अविश्वास भी व्यक्त किया। वोलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा कि यूक्रेन संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता के मामले में कोई समझौता नहीं करेगा। 

इसे भी पढ़ें: बाइडन ने दी पुतिन को चेतावनी, बोले- नाटो की सीमा में एक इंच भी दाखिल होने की न सोचें 

क्या रूस-यूक्रेन के बीच दूरियां हो रहीं कम ?

रूस और यूक्रेन के बीच हुई वार्ता को लेकर तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुत कावुसोग्‍लू का बयान सामने आया। जिसमें उन्होंने कहा कि हमने देखा की कुछ दूरियां कम हुई हैं, कई मुद्दों पर सहमति भी बनी है। अब ज्यादा जटिल मुद्दों पर उच्च स्तर पर बातचीत होगी और दोनों देशों के विदेश मंत्री मिलेंगे। ऐसे में हम चाहेंगे कि व्लादिमीर पुतिन और वोलोदिमिर जेलेंस्की साथ बैठकर बात करें।

यूक्रेन पर गिराए गए बम

रूस एक तरफ कीव और चेर्नीहिव के आसपास सैन्य अभियानों को कम करने की बात कर रहा है तो दूसरी तरफ पूरे यूक्रेन में बमबारी हो रही है। कई रिपोर्ट्स के खुलासा हुआ है कि कीव, खारकीव, पोल्टावा समेत कई स्थानों पर धमाकों की आवाज सुनाई दी है। इसी बीच खबर सामने आई है कि यूक्रेन के मायकोलायिव क्षेत्र में रूसी मिसाइलों के हमलों में 12 लोगों की मौत हो गई है। जबकि 30 से अधिक लोग जख्मी बताए जा रहे हैं।