नवरात्रि में माता को प्रसन्न करने के लिए करें ये काम, माँ भर देंगी आपकी झोली

नवरात्रि में माता को प्रसन्न करने के लिए करें ये काम, माँ भर देंगी आपकी झोली

नवरात्रि में माता दुर्गा के नौ रूपों की उपासना करने से माता प्रसन्न होती हैं और सभी मनोकामनाएं पूरी करती हैं। शास्त्रों में माता को प्रसन्न करने के विभिन्न उपाय बताए गए हैं। इन उपायों का पालन करके आप भी माता को प्रसन्न कर सकते हैं। यह उपाय करने से माता का आशीर्वाद प्राप्त होता है और घर में सुख-शांति बनी रहती है।

नवरात्रि का पावन पर्व माँ दुर्गा के भक्तों के लिए बेहद खास होता है। नवरात्रि में नौ दिनों तक माँ दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा-आराधना और व्रत का विशेष महत्व है। ऐसी मान्यता है कि नवरात्रि में माता के सभी नौ रूपों का अपना अलग महत्व है और माता के सभी रूपों की पूजा से अलग-अलग फल प्राप्त होता है। नवरात्रि में माता दुर्गा के नौ रूपों की उपासना करने से माता प्रसन्न होती हैं और सभी मनोकामनाएं पूरी करती हैं। शास्त्रों में माता को प्रसन्न करने के विभिन्न उपाय बताए गए हैं। इन उपायों का पालन करके आप भी माता को प्रसन्न कर सकते हैं। यह उपाय करने से माता का आशीर्वाद प्राप्त होता है और घर में सुख-शांति बनी रहती है। आज के इस लेख में हम आपको नवरात्रि में माता को प्रसन्न करने के उपाय बताने जा रहे हैं- 

इसे भी पढ़ें: नवरात्रि के दूसरे दिन इस विधि से करें माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा, करें इन मन्त्रों का जाप

माता को अर्पित करें लाल रंग के फूल 

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार माँ दुर्गा को लाल रंग अतिप्रिय है। माना जाता है कि मां दुर्गा को लाल रंग अतिप्रिय है। नवरात्रि पर माता को प्रसन्न करने के लिए माता रानी को लाल रंग के फूल, चुनरी आदि अर्पित करना शुभ माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि माता को कमल का फूल भी अतिप्रिय है इसलिए नवरात्रि में देवी दुर्गा को कमल का फूल अर्पित करना भी शुभ माना जाता है। इससे घर में सुख-समृद्धि आती है।

नवरात्रि में करें दुर्गा सप्तशती का पाठ

मान्यताओं के अनुसार नवरात्रि पर दुर्गा का सप्तशती का पाठ करना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार दुर्गा सप्तशती का पाठ करने से माता प्रसन्न होती हैं और सभी मनोकामनाएं पूरी करती हैं। मान्यताओं के अनुसार दुर्गा शप्तसती का पाठ बिना किसी त्रुटि के होना चाहिए इसलिए पाठ की समाप्ति पर माता रानी से अपनी भूल-चूक की माफी भी मांग लेनी चाहिए। 

नौ दिन तक खिलाएं गाय को रोटी 

हिंदू धर्म में गाय को माँ का दर्जा दिया गया है। शास्त्रों में भी लिखा गया है कि गाय की सेवा करने से बहुत पुण्य मिलता है। कहा जाता है कि नवरात्रि के नौ दिनों तक रोटी खिलाने से माँ दुर्गा प्रसन्न होती हैं। इससे घर में सुख-समृद्धि आती है और जीवन से सभी कष्ट समाप्त होते हैं।


कमल का पुष्प पर करें माता को विराजमान 

मान्यताओं के अनुसार कमल का पुष्प माता रानी को बहुत प्रिय है। नवरात्रि पर माँ दुर्गा की प्रतिमा को कमल के पुष्प पर विराजमान करके देवी की पूजा करना बहुत शुभ माना जाता है। माना जाता है कि ऐसा करने से माता अपने भक्तों की सभी मनोकामनाएँ पूरी करती हैं।

घर के बाहर बनाएं स्वास्तिक का निशान

हिन्दू धर्म में स्वास्तिक के चिन्ह का बहुत महत्व है। शास्त्रों के अनुसार नवरात्रि के पहले दिन मंदिर में और घर के बाहर स्वास्तिक बनाना से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है। ऐसा करने से मां दुर्गा का आशीर्वाद प्राप्त होता है और घर में सुख-शांति बनी रहती है।

इसे भी पढ़ें: नवरात्रि में करें इन मंत्रों का जाप, माँ दुर्गा दूर करेंगी आपके सभी कष्ट

माता को अर्पित करें कौड़ी

मान्यताओं के अनुसार नवरात्रि में मां दुर्गा को कौड़ी अर्पित करना बेहद शुभ माना जाता है। कहा जाता है कि ऐसा करने से माता प्रसन्न होती हैं और सुख-समृद्धि और वैभव का आशीर्वाद देती हैं। 

माता के सामने जलाएं अखंड ज्योति

नवरात्रि में माँ दुर्गा के सामने अखंड ज्योति जलाने का बहुत महत्व है। मान्यता है कि अखण्ड ज्योति जलाने से माँ दुर्गा प्रसन्न होती हैं और भक्तों की सभी मनोकामाएं पूरी करती हैं।

- प्रिया मिश्रा






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

धर्म

झरोखे से...