दशहरा के दिन कर लें ये आसान टोटके, हो जाएंगे मालामाल और दूर होंगी सभी परेशानियाँ

दशहरा के दिन कर लें ये आसान टोटके, हो जाएंगे मालामाल और दूर होंगी सभी परेशानियाँ

हिंदू पंचांग के अनुसार, आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को दशहरा पर्व मनाया जाता है। इस साल दशहरा 15 अक्टूबर को मनाया जाएगा। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार दशहरा के दिन कुछ विशेष ज्योतिषीय उपाय करने से घर में सुख-समृद्धि आती है।

हिंदू धर्म में दशहरा या विजया दशमी त्योहार का विशेष महत्व होता है। यह पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। हिंदू पंचांग के अनुसार, आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को दशहरा पर्व मनाया जाता है। इस साल दशहरा 15 अक्टूबर को मनाया जाएगा। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार दशहरा के दिन कुछ विशेष ज्योतिषीय उपाय करने से  घर में सुख-समृद्धि आती है-

इसे भी पढ़ें: दशहरा पर्व पर इस विजय मुहूर्त में जो भी काम शुरू करेंगे, उसमें विजय निश्चित है

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार दशहरे के दिन घर में उत्तर-पूर्व दिशा में रोली, कुमकुम या लाल रंग के फूलों से अष्टकमल की आकृति बनानी चाहिए। माना जाता है कि ऐसा करने माँ लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और इससे घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार यदि व्यापार में लगातार घाटा हो रहा हो तो दशहरे के दिन सवा मीटर पीले कपड़े में एक नारियल लपेटें। इस नारियल को जनेऊ और सवा पाव मिठाई के साथ किसी भी राम मंदिर में चढ़ा दें। ऐसा करने से व्यापार में मुनाफा होने लगेगा। 

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार दशहरा के दिन शस्त्रों की पूजा करनी चाहिए। माना जाता है कि विजय दशमी के दिन शस्त्रों की पूजा करने से शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है।

अगर आप नौकरी में उन्नति चाहते हैं तो दशहरा के दिन दोपहर में माँ दुर्गा की पूजा करते समय इस मन्त्र "ॐ विजयायै नम:" का जाप करें। इसके साथ ही माता को 10 फल चढ़ाएं। फिर इन फलों को प्रसाद में बांट दें। इसके बाद एक झाडू खरीदें और उसे मंदिर में दान कर दें। इससे नौकरी और व्यापार में उन्नति मिलेगी। 

दशहरे के दिन शमी के पेड़ की पूजा करना शुभ माना जाता है। माना जाता है कि इससे घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। इस दिन शमी के पेड़ के नीचे दीपक जलाने से कामों में आ रही अड़चन समाप्त हो जाती है।  

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार दशहरे के दिन पान खाना शुभ माना जाता है। मान्यता है कि ऐसा करने से वैवाहिक जीवन में आ रही समस्याएं दूर होती हैं और वैवाहिक जीवन सुखमय रहता है।

इसे भी पढ़ें: सांस्कृतिक एकता और अखण्डता को जोड़ने का पर्व है दशहरा

दशहरे के दिन नीलकंठ पक्षी के दर्शन करना बहुत शुभ माना जाता है। नीलकंठ देखने से पूरे साल जिंदगी खुशहाल रहती है।

माना जाता है कि विजय दशमी के दिन रावण दहन की राख को सरसों के तेल में मिलाकर घर की हर दिशा में छिड़कना चाहिए। कहा जाता है कि ऐसा करने से घर से नकारत्मकता दूर होती है और घर में पॉजिटिविटी आती है।

- प्रिया मिश्रा 






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

धर्म

झरोखे से...