मनाएंगे दीपावली का शुभ त्यौहार (कविता)

poem on diwali
प्रस्तुत है युवा लेखिका प्राची थापन की ओर से रचित कविता ''मनाएंगे दीपावली का शुभ त्यौहार''।

प्रस्तुत है युवा लेखिका प्राची थापन की ओर से रचित कविता 'मनाएंगे दीपावली का शुभ त्यौहार'।

दीपक की लौ से इस बार, मनाएंगे दीपावली का शुभ त्यौहार

घर घर में खुशियों की रौशनी घर घर में उपहारों की बहार

दीपक से रौशन हुई है ये दुनिया और रंगों से किया श्रृंगार

मीठा मीठा हुआ जग सारा और माँ लक्ष्मी की कृपा अपार 

सब बुराइयों को है जलाना, भूल ना जाना अबकी बार

हम सबको मिलकर है मनाना, ध्वनि और वायु प्रदुषण मुक्त त्यौहार


जितना हो और जैसा भी हो, करे ये हिम्मत अबकी बार 

एक दीप जलाना उनके मन में नई उम्मीद का तुम इस बार

जो हम जैसे कभी ना मना पाया हो, ऐसी खुशियों का त्यौहार 

त्यौहार नहीं ये, उम्मीद हर किसी की, जो पूरी हो जाये अबकी बार

आप सभी और आपके परिवार को दीपावली की शुभकामनायें अपार।।

- प्राची थापन

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़