केजरीवाल ने मोगा में किया बड़ा ऐलान, बोले- पंजाब की हर महिला को प्रतिमाह देंगे एक हजार रुपए

केजरीवाल ने मोगा में किया बड़ा ऐलान, बोले- पंजाब की हर महिला को प्रतिमाह देंगे एक हजार रुपए

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के बारे में पंजाब का बच्चा जानता है कि कैसे दिल्ली में स्कूल, अस्पताल, सड़कें, मोहल्ला क्लीनिक और बसें अच्छी हो गईं। बिजली पूरी तरह से मुफ्त हो गईं। हम दिल्ली की ही तरह पंजाब में भी विकास करेंगे। उन्होंने कहा कि इस बार का विधानसभा चुनाव महिलाओं को लड़ना है।

चंडीगढ़। पंजाब विधानसभा चुनाव के मद्देनजर आम आदमी पार्टी संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को मोगा में बड़ा ऐलान किया। उन्होंने कहा कि अगर सरकार बनी कि 18 साल से ज्यादा की सभी महिलाओं को हर महीने एक हजार रुपए देंगे। 

इसे भी पढ़ें: पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 में पटियाला से मैदान में उतरेंगे अमरिंदर सिंह 

महिलाएं लड़ेंगी इस बार का चुनाव

उन्होंने कहा कि दिल्ली के बारे में पंजाब का बच्चा जानता है कि कैसे दिल्ली में स्कूल, अस्पताल, सड़कें, मोहल्ला क्लीनिक और बसें अच्छी हो गईं। बिजली पूरी तरह से मुफ्त हो गईं। हम दिल्ली की ही तरह पंजाब में भी विकास करेंगे। उन्होंने कहा कि इस बार का विधानसभा चुनाव महिलाओं को लड़ना है। आप सभी को लड़ना है। उन्होंने कहा कि इस बार घर की महिलाएं तय करेंगी कि किसे वोट देना है।

इसी बीच केजरीवाल ने मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पर निशाना साधा। उन्होंंने कहा कि पंजाब में आजकल नकली केजरीवाल घूम रहा है और मैं जो ऐलान करता हूं उसके दो दिन बाद वो वही कह देता है। लेकिन करता नहीं है। केजरीवाल ने कहा कि मैंने पंजाब में आकर बिजली फ्री करने की बात कही लेकिन उसके दो दिन बाद वो कहता है कि हमने बिजली फ्री कर दी। लेकिन किसी का बिजली बिल जीरो आया है ? उन्होंने कहा कि पूरे देश में केवल केजरीवाल ही बिजली का बिल जीरो कर सकता है आप लोग उस नकली केजरीवाल से बचकर रहना। 

इसे भी पढ़ें: सुखजिन्दर सिंह रंधावा और परगट सिंह द्वारा लोक गायिका गुरमीत बावा के देहांत पर गहरा दुख प्रकट 

यहां सुने पूरा संबोधन:-





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।