Prabhasakshi
बुधवार, सितम्बर 19 2018 | समय 12:08 Hrs(IST)

राष्ट्रीय

सेना ने दिये मेजर गोगोई के खिलाफ कोर्ट ऑफ इन्कवॉयरी का आदेश

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 25 2018 7:17PM

सेना ने दिये मेजर गोगोई के खिलाफ कोर्ट ऑफ इन्कवॉयरी का आदेश
Image Source: Google

श्रीनगर। सेना ने आज मेजर नितिन लीतुल गोगोई के खिलाफ कोर्ट ऑफ इन्क्वॉयरी का आदेश दिया जिन्हें इसी हफ्ते के शुरू में तब हिरासत में ले लिया गया था जब वह 18 साल की एक युवती के साथ किसी होटल में घुसने की कोशिश कर रहे थे और होटल स्टाफ से कहासुनी हो ने के बाद उन्हें हिरासत में लिया गया था। अधिकारियों ने बताया कि आगे की कार्रवाई के बारे में इस जांच के निष्कर्षों के आधार पर फैसला किया जाएगा।

 
कोर्ट ऑफ इन्क्वॉयरी का फैसला सेना प्रमुख बिपिन रावत के इस बयान के शीघ्र बाद आया कि यदि मेजर गोगोई किसी अपराध के दोषी पाये जाते हैं तो उन्हें कड़ी सजा दी जाएगी। रावत ने आर्मी गुडविल स्कूल जाते समय पहलगाम में संवाददाताओं से कहा, ''यदि भारतीय सेना का कोई भी अधिकारी किसी भी अपराध का दोषी पाया जाता है तो हम कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेंगे।’’ उन्होंने कहा, ''यदि मेजर गोगोई ने कुछ गलत किया है तो मैं आपको आश्वासन देता हूं कि उन्हें जल्द से जल्द सजा दी जाएगी। यह सजा एक मिसाल कायम करेगी।’’
 
जम्मू-कश्मीर पुलिस पहले से ही 23 मई की घटना की जांच कर रही है जब मेजर गोगोई को उनके ड्राइवर और बडगाम की एक युवती के साथ पुलिस को सौंपा गया था। अधिकारियों ने बताया कि होटल के कर्मचारियों ने गोगोई को महिला के साथ अंदर नहीं जाने दिया था। पिछले साल कश्मीर में अपने वाहन के बोनट पर एक नागरिक को बांधने के मेजर गोगोई के फैसले पर विवाद खड़ा हो गया था।
 
इस बीच, जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने थल सेना के मेजर नितिन लीतुल गोगोई के साथ एक होटल से हिरासत में ली गयी लड़की के परिवार को आज 1.30 लाख रूपया जारी किया। यह लड़की एक होटल में गोगोई के साथ गई थी। नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के नेता उमर अब्दुल्ला के राजनीतिक सचिव तनवीर सादिक ने टि्वटर पर कहा कि यह राशि लड़की के परिवार को एक मकान बनाने के लिए दी जा रही है। यह परिवार बडगाम में बहुत ही गरीबी में रह रहा है। सादिक ने ट्वीट किया कि उनकी पार्टी के स्थानीय पदाधिकारियों ने बीरवाह के चेक कवोसा इलाके का दौरा किया। वहां परिवार को अत्यधिक गरीबी तथा टीन के छप्पर वाले मकान में रहते देख कर उमर ने 1.30 लाख रूपया जारी किया। यह रकम उमर के निर्वाचन क्षेत्र विकास कोष से जारी की जा रही है जो बीरवाह से विधानसभा सदस्य हैं।
 
सादिक ने नेकां की ओर से बडगाम के जिला विकास आयुक्त को भी एक पत्र लिख कर यह रकम जारी करने का अनुरोध किया। उन्होंने यह पत्र ट्विटर पर भी डाला है। दरअसल, बुधवार को एक होटल में गोगोई और उनके चालक के साथ 18 साल की एक लड़की पाई गई थी। कमरा नहीं देने पर होटल कर्मियों से गोगोई और उनके चालक की झड़प होने के बाद इन दोनों को हिरासत में ले लिया गया। गौरतलब है कि गोगोई ने पिछले साल अप्रैल में एक विवाद छेड़ दिया था, जब उन्होंने फारूक डार नाम के एक स्थानीय व्यक्ति को अपनी जीप के बोनट से बांध कर बडगाम जिले में घुमाया था। उन्होंने संभवत: पथराव से बचने के लिए ऐसा किया था।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


शेयर करें: