आसाराम को जोधपुर जेल में किया गया शिफ्ट, सीने में दर्द की शिकायत के बाद पहुंचे थे अस्पताल

Asaram
स्वयंभू धर्मगुरु आसाराम बापू को सीने में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराने के दो दिन बाद बृहस्पतिवार को वापस जोधपुर केंद्रीय जेल लाया गया। उन्हें मंगलवार आधी रात को एमडीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया था और विस्तृत जांच के बाद छुट्टी दे दी गई थी।

जोधपुर। स्वयंभू धर्मगुरु आसाराम बापू को सीने में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराने के दो दिन बाद बृहस्पतिवार को वापस जोधपुर केंद्रीय जेल लाया गया। उन्हें मंगलवार आधी रात को एमडीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया था और विस्तृत जांच के बाद छुट्टी दे दी गई थी। हृदय रोग विशेषज्ञ संजीव संघवी ने बताया कि उन्हें सीसीयू में निगरानी में रखा गया था।

इसे भी पढ़ें: क्या अमेजन पर लगेगी रोक? CAIT ने सरकार से की पांबदी की मांग

संघवी ने कहा,‘‘ विस्तृत जांच के बाद, हमने उन्हें एंजियोग्राफी की सलाह दी, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया और बाद में कराने को कहा। इसलिए हमने उन्हें कुछ दवाएं दी हैं।” अस्पताल अधीक्षक एमके असेरी के मुताबिक उनके ब्लैडर में संक्रमण था, जिसके बाद आसाराम को एक यूरोलॉजिस्ट के पास रेफर कर दिया गया, जिन्होंने उन्हें एंटीबायोटिक लिख दिए।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान में जांच चौकी पर अज्ञात बंदूकधारियों का हमला, चार सैनिकों की मौत

असेरी ने कहा कि दो दिन तक उन्हें निगरानी में रखने के बाद दोपहर में अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। बृहस्पतिवार को बड़ी संख्या में अस्पताल में जुटे उनके अनुयायियों को रोकने के लिए पुलिस को मुश्किलों का सामना करना पड़ा। उनमें से कई ने मरीज बनकर अस्पताल में घुसने की कोशिश भी की।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़