अशोक गहलोत होंगे राजस्थान के CM, पायलट बनेंगे डिप्टी सीएम

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Dec 14 2018 4:18PM
अशोक गहलोत होंगे राजस्थान के CM, पायलट बनेंगे डिप्टी सीएम
Image Source: Google

इससे पहले वरिष्ठ नेता गहलोत और युवा सहयोगी सचिन पायलट के साथ कई दौर की चर्चाओं के बाद मुख्यमंत्री पद को लेकर जारी गतिरोध दूर कर लिया गया।

राजस्थान में मुख्यमंत्री के चयन को लेकर हुए लंबे मंथन के बाद आखिरकार शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गतिरोध खत्म करते हुए अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री और सचिन पायलट को उप मुख्यमंत्री नामित किया। गांधी के आवास पर दो दिनों तक कई दौर की बैठकों के बाद मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री के फार्मूले पर सहमति बनी जिसे पार्टी ने ‘अनुभवी और ऊर्जावान नेतृत्व’ का मेल करार दिया है। राजस्थान के लिए पार्टी पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘कांग्रेस अध्यक्ष ने फैसला किया है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत होंगे। इसके साथ सचिन पायलट उप मुख्यमंत्री होंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अनुभवी और ऊर्जावान नेतृत्व एक साथ आ रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष इसमें विश्वास करते हैं। यह नेतृत्व पार्टी को मजबूत करेगा और राजस्थान के लोगों की अकांक्षाओं को पूरा करेगे।’’



 
गहलोत ने कहा, ‘‘मैं अपने नेता राहुल गांधी जी और नवनिर्वाचित विधायकों का आभारी हूं कि उन्होंने यह फैसला किया। मुझे एक बार फिर राजस्थान का सेवा करने का अवसर मिलेगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘चुनाव प्रचार के दौरान हमने कई मुद्दे उठाए। हमने और राहुल गांधी जी ने सुशासन की बात है। इस मुबारक मौके पर मैं यह कह सकता हूं कि मैं और सचिन पायलट जी मिलकर राहुल गांधी जी की भावना के अनुरूप काम करेंगे।’’
 
 
पायलट ने कहा, ‘‘किसको मालूम था कि दो-दो करोड़पति बन जाएगें। मैं राहुल गांधी जी और विधायकों का धन्यवाद करना चाहता हूं। मैं गहलोत जी की बधाई देता हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘तीनों राज्यों राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के चुनाव देश की राजनीति को बदलने वाले चुनाव थे। ये देश को संतोष देने वाले थे। जो लोग आशा खो चुके थे उनको आशा देने वाले हैं।’’ पायलट ने भरोसा जताया कि कांग्रेस का अच्छा चुनावी प्रदर्शन जारी रहेगा और पार्टी को 2019 चुनावों में बड़ा जनादेश मिलेगा और वह सरकार बनाएगी। 


 
 
वेणुगोपाल ने कहा, ‘‘हम आज राज्यपाल से मिलेंगे और शपथ ग्रहण समारोह के कार्यक्रम पर फैसला लेंगे।’’ कांग्रेस अध्यक्ष के आवास पर बृहस्पतिवार को कई दौर की बैठकों के बाद सहमति नहीं बन पाई थी। उन्होंने शुक्रवार को फिर से बैठक की जिसमें मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री के फार्मूले पर सहमित बनी। 
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video