अयोध्या राम मंदिर: टेस्टिंग का काम पूरा ! जल्द शुरू होगा 1200 पिलर्स का निर्माण

Ram Mandir
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ट्रस्ट के सदस्य डॉ. अनिल मिश्र ने बताया कि 12 टेस्ट पिलर्स की लोड क्षमता की जांच की रिपोर्ट मिलने के बाद 1200 पिलर्स के निर्माण कार्य का काम जल्द ही शुरू हो जाएगा।

लखनऊ। राममंदिर निर्माण के लिए रामजन्मभूमि परिसर में टेस्ट पिलर्स का काम पूरा हो चुका है। यह टेस्ट आईआईटी रुड़की और आईआईटी चेन्नई के इंजीनियर्स की देखरेख में किया गया है। पिलर का टेस्ट करने के लिए तीन-तीन पिलरों के चार सेट तैयार किए गए थे। कुल 12 टेस्ट पिलर बनाए गए। जिसकी भार क्षमता की जांच का काम पूरा हो चुका है। इंजीनियर्स ने पिलर को टेस्ट करने के लिए उन पर 700 टन वजन डाला था। 

इसे भी पढ़ें: राममंदिर की नींव रखी जा चुकी, लेकिन UP में जंगल राज बरकरार: शिवसेना का तंज 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ट्रस्ट के सदस्य डॉ. अनिल मिश्र ने बताया कि 12 टेस्ट पिलर्स की लोड क्षमता की जांच की रिपोर्ट मिलने के बाद 1200 पिलर्स के निर्माण कार्य का काम जल्द ही शुरू हो जाएगा। पिछले दिनों ट्रस्ट ने माना था कि टेस्टिंग का काम पूरा होने के बाद मंदिर निर्माण कार्य में तेजी आएगी। इतना ही नहीं उन्होंने कहा था कि 2021 तक मंदिर के लिए जरूरी 1200 पिलर्स का निर्माण भी हो जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री ने प्रियंका के भगवान राम पर बयान को बताया ऐतिहासिक यू-टर्न 

एक हजार साल तक मजबूत रहे नींव

राम मंदिर के निर्माण कार्य में जुटी एल एंड टी आईआईटी रुड़की और आईआईटी चेन्नई के इंजीनियर्स की देखरेख में पिलर्स की टेस्टिंग का हुआ है और यह परीक्षण मंदिर नीव की मजबूती को एक हजार साल तक बनाए रखने के लिए किया गया है। इसी क्रम में उन्होंने भूकंपरोधी और बाढ़रोधी क्षमता की भी टेस्टिंग की। मिली जानकारी के मुताबिक तीन दिनों तक 12 पिलर्स की टेस्टिंग का काम चला।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़