बिहार में NDA की सरकार गिरते ही बोले तेज प्रताप, अब सभी को मिलेगा रोजगार, हम ED से डरने वाले हैं क्या ?

Tej Pratap Yadav
ANI Image
राजद नेता तेज प्रताप यादव ने कहा कि सरकार बन गई... अब सभी को रोजगार मिलेगा। लाखों करोड़ों लोगों को रोजगार मिलेगा। तेजस्वी ने जो 10 लाख लोगों को रोजगार देने की बात कही थी, वो अब दिया जाएगा। बिहार में जिस तरीके से खेला हुआ उसी खेला का रिजल्ट दिखाने का काम हुआ है।

पटना। महागठबंधन के विधायक दल के नेता नीतीश कुमार बुधवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। आपको बता दें कि शपथ ग्रहण समारोह शाम को 2 बजे होगा, जहां पर नीतीश कुमार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे और तेजस्वी यादव उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। इसी बीच राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप का बयान सामने आया। जिसमें उन्होंने दावा किया कि अब सभी को रोजगार मिलेगा।

इसे भी पढ़ें: गठबंधन सहयोगियों को नष्ट कर देती है भाजपा, नीतीश-तेजस्वी ने सरकार बनाने का दावा किया पेश, बुधवार को होगा शपथग्रहण समारोह 

समाचार एजेंसी एएनआई के साथ बातचीत में राजद नेता तेज प्रताप यादव ने कहा कि सरकार बन गई... अब सभी को रोजगार मिलेगा। लाखों करोड़ों लोगों को रोजगार मिलेगा। तेजस्वी ने जो 10 लाख लोगों को रोजगार देने की बात कही थी, वो अब दिया जाएगा। बिहार में जिस तरीके से खेला हुआ उसी खेला का रिजल्ट दिखाने का काम हुआ है। अब सब कुछ जनता के ऊपर है, जनता चाहेगी तो भाजपा का 2 मिनट में बुखार छुड़ा देगी। हमें जो भी मिलेगा हमें स्वीकार होगा।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार अब बन गई है, अब सिर्फ बिहार को ऊंचाईयों पर ले जाना है। इसी बीच केंद्रीय एजेंसियों से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि ईडी या सीबीआई से हम लोग डरने वाले हैं क्या ? अगर हमने गलत काम नहीं किया तो फिर डरेंगे क्यों ? भाजपा सरकार ने निर्दोष लोगों के ऊपर ईडी, सीबीआई को लगाने का काम किया है।

गठबंधन साथियों को नष्ट कर देती है भाजपा

राज्यपाल से मुलाकात के बाद नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान नीतीश कुमार ने कहा कि मैं यहां राज्यपाल से मिलने आया और अपना इस्तीफा दे दिया। महागठबंधन में 7 पार्टियों के निर्दलीय समेत 164 विधायक हैं। जबकि तेजस्वी यादव ने कहा कि भाजपा का कोई गठबंधन सहयोगी नहीं है, इतिहास बताता है कि भाजपा उन दलों को नष्ट कर देती है जिनके साथ वह गठबंधन करती है। हमने देखा कि पंजाब और महाराष्ट्र में क्या हुआ।

इसे भी पढ़ें: नीतीश-तेजस्वी ने राज्यपाल से की मुलाकात, सरकार बनाने का दावा किया पेश, 164 विधायकों के समर्थन वाली चिट्ठी सौंपी 

उन्होंने कहा कि बिहार में जो भी हो रहा था वो किसी से छुपा नहीं था। जनता विकल्प चाहती है, बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिला। नीतीश कुमार ने अपना काम किया, इन्होंने नरेंद्र मोदी के सामने ये मांग रखी लेकिन इनकी मांग को नहीं माना गया।

अन्य न्यूज़