• LAC पर चीन की थ्री लेयर साजिश, हर हिमाकत का जवाब देने के लिए भारत ने की ये तैयारी

अभिनय आकाश  Sep 27, 2021 13:27

क्वॉड में किरकिरी के बाद चीन अब अकेला पड़ता दिखाई दे रहा है। जब कोई अकेला पड़ जाता है तो बौखला जाता है। चीन की हर नापाक मंसूबे के जवाब देने के लिए भारत भी तैयार है। चीन की ड्रोन वाली साजिश को लेकर भारत पूरी तरह से अलर्ट है और हर गतिविधि पर सेना की चौकस नजर है।

लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर इस वक्त चीनियों का ड्रोन शो चल रहा है। चीन की सेना पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर अपने क्षेत्र में 50 हजार से अधिक सैनिकों को तैनात करने के बाद बड़े पैमाने पर ड्रोन का इस्तेमाल कर रही है। एलएसी पर चीन ने भारत के खिलाफ एक थ्री लेयर साजिश रची है। जिसके तहत कैमरा, रडार और मॉनिटर सिस्टम तैनात किए है। इसते साथ ही चीन एलएसी पर जैमर सिस्टम भी लगा रहा है।  

  • पहली लेयर में हाई फाई पैनारोमिक कैमरा लगाया है।
  • दूसरी लेयर में पंद्रह किलो वाले पोर्टेबल रडार लगाए हैं।
  • तीसरी लेयर में वॉर्निंग मॉनिटर सिस्टम तैनात किए हैं।

इसे भी पढ़ें: चीन से लगी सीमा पर युद्ध के नये स्वरूप का सामना कर रहा है भारत: राहुल गांधी

चीन की ड्रोन वाली साजिश 

हॉट स्प्रिंग्स और गोगरा हाइट्स में चीनी ड्रोन दिखें हैं। इलके अलावा दौरतबेग ओल्डी इलाके में भी चीनी ड्रोन देखे गए हैं। ऐसा माना जा रहा है कि बॉर्डर पर रेकी करने के लिए चीन ये ड्रोन भेज रहा है। ये चीनी ड्रोन भारतीय चौकियों के करीब उड़ान भर रहे हैं। चीन द्वारा ड्रोन इस्तेमाल का अलग-अलग तरीका अपनाया जा रहा है। 

भारत हर हिमाकत का जवाब देने को तैयार 

क्वॉड में किरकिरी के बाद चीन अब अकेला पड़ता दिखाई दे रहा है। जब कोई अकेला पड़ जाता है तो बौखला जाता है। चीन की हर नापाक मंसूबे के जवाब देने के लिए भारत भी तैयार है। चीन की ड्रोन वाली साजिश को लेकर भारत पूरी तरह से अलर्ट है और हर गतिविधि पर सेना की चौकस नजर है। एलएसी पर भारत ने भी ड्रोन की संख्या बढ़ा दी है। जल्द ही वह नए इजरायली और भारतीय ड्रोन को शामिल करेगी। इन ड्रोन को सीमा पर चीन की चुनौती का सामना करने के लिए आपात वित्तीय शक्तियों का इस्‍तेमाल करके रक्षा बलों की ओर से अधिग्रहित किया गया है। इसके अलावा ड्रोन पर नजर रखने के लिए भारत विशेष तकनीक का इस्तेमाल कर रहा है।