अरुणाचल प्रदेश से लापता हुए 17 साल के युवक को रिहा करेगी चीनी सेना, किरेन रिजिजू ने जारी किया बयान

Kiren Rijiju
रेनू तिवारी । Jan 26, 2022 3:04PM
अरुणाचल प्रदेश से लापता हुए 17 साल के लड़के को जल्द ही छोड़ दिया जाएगा। चीनी सेना ने भारत को इस बात का संकेत दे दिया है। पिछले काफी समय से युवक को छोड़ने की प्रक्रिया चल रही थी। केंद्रीय कानून और न्याय मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा कि चीन ने 17 वर्षीय लड़के की रिहाई के संकेत दिए हैं।

अरुणाचल प्रदेश से लापता हुए 17 साल के लड़के को जल्द ही छोड़ दिया जाएगा। चीनी सेना ने भारत को इस बात का संकेत दे दिया है। पिछले काफी समय से युवक को छोड़ने की प्रक्रिया चल रही थी। केंद्रीय कानून और न्याय मंत्री किरेन रिजिजू ने सोशल मीडिया पर एक बयान जारी करके इस बात की जानकारी दि है कि चीनी सेना से यह संकेत दिया है कि वह । जल्द से जल्द 17 साल के लापता हुए युवक को रिहा कर देगी। साथ ही गणतंत्र दिवस के मौके पर भारत और चीन के बीच हुई बात चीत के दौरान चीनी सेना ने युवक को किस स्थान पर रिहा किया जाएगा इका भी भारत को सुझाव दिया है। अभी समय और तारीख की घोषणा नहीं की गयी है लेकिन यह आश्वासन दिया गया ह कि भारत को युवक जल्द सौंप दिया जाएगा। 

 

इसे भी पढ़ें: गणतंत्र दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी ने पहनी ब्रह्मकमल से सुसज्जित उत्तराखंड की टोपी, मणिपुर का लेंग्यान

 

17 साल के लापता हुए भारतीय युवक को चीनी सेना रिहा करेगी 

किरेन रिजिजू ने  सोशल मीडिया पर जारी बयान में कहा कि चीन ने 17 वर्षीय लड़के की रिहाई के संकेत दिए हैं, जो अरुणाचल प्रदेश से लापता हो गया था और जल्द ही तारीख और समय साझा करेगा। उन्होंने कहा कि चीन ने भी रिहाई के लिए जगह का सुझाव दिया है और उनकी तरफ से खराब मौसम की वजह से देरी हुई है।

इसे भी पढ़ें: गणतंत्र दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी ने पहनी ब्रह्मकमल से सुसज्जित उत्तराखंड की टोपी, मणिपुर का लेंग्यान

भारत और चीन की सेना ने गणतंत्र दिवस पर हॉटलाइन का आदान-प्रदान

उन्होंने कहा, "भारतीय सेना द्वारा चीनी पीएलए के साथ गणतंत्र दिवस पर हॉटलाइन का आदान-प्रदान किया गया। पीएलए ने सकारात्मक प्रतिक्रिया देते हुए युवक को हमारे राष्ट्रीय को सौंपने का संकेत दिया और रिहाई की जगह का सुझाव दिया। वे जल्द ही तारीख और समय की सूचना दे सकते हैं। खराब मौसम की स्थिति के लिए देरी को जिम्मेदार ठहराया गया।" इससे पहले, उन्होंने कहा था कि भारतीय सेना ने चीनी पक्ष के साथ पहचान, व्यक्तिगत विवरण और लापता युवक की एक तस्वीर साझा की थी। 

 

 अरुणाचल प्रदेश से लगी चीन के सीमा से लापता हुआ था 17 साल का युवक

अपर सियांग जिले के जिदो गांव का रहने वाला युवक मिराम तारोन 18 जनवरी 2022 को बिशिंग क्षेत्र के शियुंग ला से लापता हो गया था। राज्य के सांसद तपीर गाओ ने कहा था कि भागने में सफल रहे टैरोन के दोस्त जॉनी यायिंग ने पीएलए द्वारा अपहरण के बारे में अधिकारियों को सूचित किया था। सांसद ने कहा कि घटना उस स्थान के पास हुई जहां से त्सांगपो नदी अरुणाचल प्रदेश में भारत में प्रवेश करती है। सांगपो को अरुणाचल प्रदेश में सियांग और असम में ब्रह्मपुत्र कहा जाता है।

 

 पहले भी चीन की सीमा से लापता हो चुके हैं युवक

सितंबर 2020 में, PLA ने अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सुबनसिरी जिले से पांच युवकों का अपहरण कर लिया था और लगभग एक सप्ताह के बाद उन्हें रिहा कर दिया था। ताजा घटना ऐसे समय में आई है जब भारतीय सेना अप्रैल 2020 से पूर्वी लद्दाख में पीएलए के साथ गतिरोध में लगी हुई है। भारत लद्दाख से अरुणाचल प्रदेश तक चीन के साथ 3,400 किलोमीटर लंबी वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) साझा करता है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़