पौष पूर्णिमा पर पावन स्नान के लिए संगम पर श्रद्धालुओं का जमावड़ा

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 21 2019 11:32AM
पौष पूर्णिमा पर पावन स्नान के लिए संगम पर श्रद्धालुओं का जमावड़ा

अधिकारी बार-बार श्रद्धालुओं से गहरे पानी में नहीं जाने और अपने आस-पास संदिग्ध तत्वों पर नजर रखने तथा पुलिस को इसकी सूचना देने की घोषणा करते रहे।

प्रयागराज। कुंभ मेले के दूसरे महत्त्वपूर्ण स्नान दिवस पौष पूर्णिमा के अवसर पर कंपकंपाती ठंड के बावजूद असंख्य श्रद्धालुओं ने गंगा नदी के सर्द पानी में सोमवार को पवित्र डुबकी लगाई। रविवार की रात से ही श्रद्धालुओं के पहुंचने से संगम इलाके में चहल-पहल शुरू हो गई थी। वहीं सुरक्षा बलों ने मेले में पहुंच रहे श्रद्घालुओं एवं आगंतुकों की गतिविधि पर करीब से नजर रखी। सूर्योदय से भी पहले श्रद्धालु डुबकी लगाकर घाट से बाहर आते नजर आए।

 


अधिकारी बार-बार श्रद्धालुओं से गहरे पानी में नहीं जाने और अपने आस-पास संदिग्ध तत्वों पर नजर रखने तथा पुलिस को इसकी सूचना देने की घोषणा करते रहे। संगम क्षेत्र में कई स्थानों पर सूर्योदय से पहले कोहरा देखा गया। हालांकि इससे पौष पूर्णिमा के स्नान के लिए बड़ी संख्या में यहां उमड़े श्रद्धालुओं के जोश पर कोई असर नहीं पड़ा। पूर्णिमा के साथ ही कल्पवास की शुरूआत हो गई है।
 
 
पौष पूर्णिमा के महत्त्व के बारे में स्वामी अधोक्षानंद ने कहा, “पौष पूर्णिमा हिंदुओं के लिए एक महत्त्वपूर्ण दिन है जो हिंदु कैलेंडर के पौष माह की पूर्णिमा को पड़ता है। इस दिन, देश के विभिन्न हिस्सों से लोग पवित्र डुबकी लगाने के लिए संगम में एकत्र होते हैं।” उन्होंने बताया, “यहां तक कि भगवान कृष्ण ने भी कहा है कि हिंदु कैलेंडर में, वह पौष माह को दर्शाते हैं।”

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


Related Video