कांग्रेस की महंगाई मैराथन: विजेताओं को दिया गया पेट्रोल, सोयाबीन का तेल और नींबू

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 30, 2022   17:03
कांग्रेस की महंगाई मैराथन: विजेताओं को दिया गया पेट्रोल, सोयाबीन का तेल और नींबू
प्रतिरूप फोटो
ANI Image

कांग्रेस सेवादल की स्थानीय इकाई के अध्यक्ष मुकेश यादव ने संवाददाताओं से कहा कि हमने महंगाई मैराथन में युवक और युवती, दोनों वर्गों में विजेताओं को प्रथम पुरस्कार के रूप में 10-10 लीटर पेट्रोल, द्वितीय पुरस्कार के रूप में पांच-पांच किलोग्राम सोयाबीन तेल और तृतीय पुरस्कार के रूप में एक-एक किलोग्राम नींबू प्रदान किए।

इंदौर। आसमान छूती महंगाई को लेकर केंद्र और राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के संगठन सेवा दल ने शनिवार को इंदौर में अनूठे विरोध प्रदर्शन के तहत युवकों और युवतियों की दौड़ आयोजित की। कांग्रेस के एक नेता के मुताबिक ‘‘महंगाई मैराथन’’ नाम की इस दौड़ के विजेताओं को इनाम के तौर पर पेट्रोल, सोयाबीन तेल और नींबू सरीखी वे चीजें दी गईं जिनके मूल्य इन दिनों ऊंचे स्तरों पर हैं। 

इसे भी पढ़ें: पुराने वीडियो को लेकर दिग्विजय ने दिल्ली CM पर साधा निशाना, कहा- RSS के प्लॉट का हिस्सा थे केजरीवाल 

कांग्रेस सेवादल की स्थानीय इकाई के अध्यक्ष मुकेश यादव ने संवाददाताओं से कहा,‘‘हमने महंगाई मैराथन में युवक और युवती, दोनों वर्गों में विजेताओं को प्रथम पुरस्कार के रूप में 10-10 लीटर पेट्रोल, द्वितीय पुरस्कार के रूप में पांच-पांच किलोग्राम सोयाबीन तेल और तृतीय पुरस्कार के रूप में एक-एक किलोग्राम नींबू प्रदान किए। उन्होंने कहा कि दौड़ के विजेताओं को ये अनूठे पुरस्कार इसलिए दिए गए ताकि कमरतोड़ महंगाई को लेकर जनता की पीड़ा सत्तारूढ़ भाजपा के नेताओं तक पहुंच सके। 

इसे भी पढ़ें: तीसरा या चौथा मोर्चा नहीं जीत सकता है चुनाव, प्रशांत किशोर ने किए चौंका देने वाले दावे 

यादव ने आरोप लगाया कि केंद्र और राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा की नीतियों के चलते आम जरूरत की चीजों की महंगाई दिनों-दिन बढ़ रही है। चश्मदीदों ने बताया कि ‘‘महंगाई मैराथन’’ के मार्ग पर दौड़ते धावकों के पीछे स्थानीय कांग्रेस नेताओं ने महंगाई के विरोध में रैली निकाली और भाजपा के खिलाफ नारे लगाए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।