पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव, स्वास्थ्य में पहले से सुधार

पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव, स्वास्थ्य में पहले से सुधार

अपने निधन की फर्जी खबरों पर पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा ताई ने न्यूज चैनलों को जमकर फटकार लगाई और कहा, आखिर न्यूज चैनल बिना सच्चाई पता किए ऐसी खबर कैसे चला सकते हैं? क्या उन्होंने इंदौर प्रशासन से खबर की सच्चाई पता करने की कोशिश की?

इंदौर। देश की दूसरी महिला लोकसभा अध्‍यक्ष रही सुमित्रा महाजन (ताई) के स्वास्थ्य में अब लगातार सुधार हो रहा है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ओर से  दी गई जानकारी के अनुसार उन्‍हें बुखार आने पर बॉम्बे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। जहां जांच के दौरान कोविड-19 वायरस की उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। सुमित्रा महाजन इंदौर से लगातार 8 बार सांसद रहने के अलावा ऐसी महिला सांसद का खिताब भी रखती है जिन्होंने कभी लोकसभा चुनाव नहीं हारा। 

 

इसे भी पढ़ें: चक्क आगासौद बीना रिफायनरी में 5 मई से शुरू होगा 100 बिस्तर का अस्थाई अस्पताल

पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की तबियत गुरूवार को बिगड़ गई है जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। शुक्रवार को  मिली जानकारी के अनुसार वे पहले से स्‍वस्‍थ हैं, उन्‍हें अभी और दो-तीन दिन चिकित्‍सकों की निगरानी में रखा जाएगा। उसके बाद जैसा चिकित्‍सक कहेंगे वैसा आगे निर्णय लिया जाएगा। घबराने की कोई बात नहीं है। उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं, देर रात महाजन के कार्यालय से स्पष्ट किया गया था कि उनका स्वास्थ्य ठीक है। इस पर सुमित्रा महाजन की तरफ से भी प्रतिक्रिया सामने आ चुकी है।

वही अपने निधन की फर्जी खबरों पर पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा ताई ने न्यूज चैनलों को जमकर फटकार लगाई और कहा, आखिर न्यूज चैनल बिना सच्चाई पता किए ऐसी खबर कैसे चला सकते हैं? क्या उन्होंने इंदौर प्रशासन से खबर की सच्चाई पता करने की कोशिश की? महाजन ने कहा, ‘मेरी भतीजी ने शशि थरूर के ट्वीट का खंडन किया, लेकिन बिना पुष्टि के इस तरह की खबरें फैलाने की क्या जल्दबाजी थी’।

 

इसे भी पढ़ें: रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वालों पर रासुका लगायें : मुख्यमंत्री चौहान

उल्‍लेखनीय है कि बीते दिवस गुरुवार शाम उन्‍हें लेकर एक गलत सूचना चली जाने से सभी ओर हलचल मच गई थी। कुछ नेताओं ने तो उस सूचना पर ट्वीट भी कर दिए था। जिनमें कांग्रेस नेता शशि थरूर का नाम सबसे आगे है। उन्‍होंने फेक न्यूज के जाल में फंसते हुए सुमित्रा ताई के निधन को लेकर ट्वीट कर दिया था। उनके उस ट्वीट पर जब भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की नजर पड़ी, तो उन्होंने तुरंत इसका जवाब दिया। विजयवर्गीय ने लिखा, ‘सुमित्रा ताई एकदम स्वस्थ हैं, भगवान उन्हें लंबी उम्र दे।’ भाजपा नेता के इस जवाब के बाद थरूर ने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया और माफी मांगी। उन्‍होंने पूरे मामले पर माफी मांगते हुए लिखा कि पता नहीं ये कौन लोग हैं, जो इस तरह की झूठी खबरें फैलाते हैं। मुझसे भूलवश ऐसा हुआ है। मेरी शुभकामनाएं सुमित्रा जी के साथ हैं। भगवान उन्हें लंबी उम्र दें और हमेशा स्वस्थ रखें। 






नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।