भारत में कोरोना संक्रमितों की तादाद 93.51 लाख के पार, अबतक 87 लाख से अधिक लोग हो चुके हैं ठीक

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2020   10:52
  • Like
भारत में कोरोना संक्रमितों की तादाद 93.51 लाख के पार, अबतक 87 लाख से अधिक लोग हो चुके हैं ठीक

आंकड़ों के मुताबिक संक्रमण के कुल मामले 93,51,109 हैं जबकि485 औरसंक्रमितों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 1,36,200 हो गई।

नयी दिल्ली। देश में एक दिन में कोरोना वायरस के 41,322 नए मामले सामने आने के साथ संक्रमण के मामले 93.51 लाख के पार चले गए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार को सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के मुताबिक अब तक 87,59,969 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं तथा ठीक होने वाले लोगों की राष्ट्रीय दर बढ़ कर 93.68 फीसदी हो गई। आंकड़ों के मुताबिक संक्रमण के कुल मामले 93,51,109 हैं जबकि 485 औरसंक्रमितों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 1,36,200 हो गई। कोरोना वायरस से संक्रमित 4,54,940 लोगों का इलाज चल रहा है। लगातार 18वें दिन उपचाराधीन मामलों की संख्या पांच लाख से कम बनी हुई है। 

इसे भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के 1,879 नए मामले, संक्रमितों की तादाद 2 लाख 32 हजार के पार 

बता दें कि इलाज करवा रहे मरीजों की संख्या संक्रमण के कुल मामलों का 4.87 फीसदी है। कोरोना वायरस के कारण मरने वालों की दर 1.46 फीसदी है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान संस्थान (आईसीएमआर) के मुताबिक 27 नवंबर तक 13.82 करोड़ नमूनों की जांच की जा चुकी है जिनमें से 11,57,605 नमूनों की जांच शुक्रवार को की गई।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


मुख्यमंत्री चौहान ने पद्म सम्मान से सम्मानित सुमित्रा महाजन, डॉ. कपिल तिवारी और भूरी बाई को दी बधाई

  •  दिनेश शुक्ल
  •  जनवरी 26, 2021   21:15
  • Like
मुख्यमंत्री चौहान ने पद्म सम्मान से सम्मानित सुमित्रा महाजन, डॉ. कपिल तिवारी और भूरी बाई को दी बधाई

मुख्यमंत्री ने कहा कि झाबुआ जिले की चित्र कलाकार भूरी बाई की प्रतिभा मौलिक है। उन्होंने भोपाल आकर भारत भवन में मजदूरी की, साथ में वे चित्रकारी भी करती थीं। उनकी प्रतिभा को पहचाना गया। उन्हें जनजातीय संग्रहालय भोपाल की दीवारों पर चित्र बनाने का मौका मिला।

भोपाल। भारत सरकार द्वारा पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को पद्म भूषण और डॉ. कपिल तिवारी एवं चित्रकार भूरी बाई को पद्मश्री सम्मान से विभूषित किया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रतिष्ठित सम्मान से नवाजे जाने पर सुमित्रा महाजन, डॉ.कपिल तिवारी और भूरी बाई को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि इससे मध्य प्रदेश गौरवान्वित हुआ है।

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में दो करोड़ पात्र परिवारों को आयुष्मान कार्ड

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने राजनीति को सेवा का माध्यम समझा और हमेशा विकास को सर्वोपरि रखा। जन कल्याण के लिए समर्पित सुमित्रा महाजन ने क्षेत्रीय विकास सहित देश और समाज के लिए उत्कृष्ट योगदान दिया है। पद्म भूषण सम्मान के लिए उन्हें बहुत बधाई और शुभकामनाएं।

इसे भी पढ़ें: इंदौर में भाजपा के प्रदेश पदाधिकारियों की 30 और 31 को कामकाजी बैठक

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि लोक संस्कृति के विद्वान, मध्य प्रदेश आदिवासी लोककला अकादमी के पूर्व संचालक डॉ. कपिल तिवारी ने लोक कलाओं और लोक कलाकारों के  सर्वांगीण विकास के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उन्होंने जनजाति बहुल क्षेत्रों से लोक कलाकारों को खोज कर उन्हें राष्ट्रीय- अंतर्राष्ट्रीय मंच प्रदान किया। लोक कला, परंपरा, संस्कृति, भाषा और साहित्य के विकास तथा दस्तावेजीकरण के लिए उनका योगदान उत्कृष्ट रहा है। पद्मश्री सम्मान के लिए उन्हें बहुत बधाई और शुभकामनाएं।

इसे भी पढ़ें: स्व. राजमाता के रास्ते पर चलकर महिलाओं को सशक्त बनाएं, यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि

मुख्यमंत्री ने कहा कि झाबुआ जिले की चित्र कलाकार भूरी बाई की प्रतिभा मौलिक है। उन्होंने भोपाल आकर भारत भवन में मजदूरी की, साथ में वे चित्रकारी भी करती थीं। उनकी प्रतिभा को पहचाना गया। उन्हें जनजातीय संग्रहालय भोपाल की दीवारों पर चित्र बनाने का मौका मिला। उनके द्वारा बनाए गए चित्रों तथा कैनवास पेंटिंग से अन्तर्राष्ट्रीय प्रसिद्धि मिली। कला के क्षेत्र में की गई साधना और मेहनत के लिए उन्हें पद्मश्री सम्मान मिला है। इसके लिए उन्हें बहुत बधाई और शुभकामनाएं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


घने कोहरे के बीच कंटेनर से टकराई एंबुलेंस, पांच लोगों की मौत, मुख्यमंत्री ने जताया शोक

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 26, 2021   18:49
  • Like
घने कोहरे के बीच कंटेनर से टकराई एंबुलेंस, पांच लोगों की मौत, मुख्यमंत्री ने जताया शोक

पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने यहां बताया कि पश्चिम बंगाल के आसनसोल इलाके में नौकरी करने वाले विनीत सिंह नामक व्यक्ति की मौत हो जाने पर उसके घर के सदस्य शव को लेकर एंबुलेंस से चित्तौड़गढ़ जा रहे थे।

भदोही। भदोही जिले के गोपीगंज क्षेत्र में मंगलवार तड़के एक शव ले जा रही एंबुलेंस के घने कोहरे के बीच सड़क किनारे खड़े एक कंटेनर (मालवाहक वाहन) से जा टकराने से उसमें सवार पांच लोगों की मौत हो गई। पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने यहां बताया कि पश्चिम बंगाल के आसनसोल इलाके में नौकरी करने वाले विनीत सिंह नामक व्यक्ति की मौत हो जाने पर उसके घर के सदस्य शव को लेकर एंबुलेंस से चित्तौड़गढ़ जा रहे थे। तड़के लगभग पांच बजे गोपीगंज थाना क्षेत्र के अमवा गांव के पास एंबुलेंस घने कोहरे के बीच सड़क के किनारे खड़े एक कंटेनर से जा टकराई। 

इसे भी पढ़ें: कर्नाटक: सड़क दुर्घटना में महिला पुलिसकर्मी समेत चार लोगों की मौत 

उन्होंने बताया कि इस हादसे में एंबुलेंस सवार चार परिजन और चालक समेत पांच लोगों की मौत हो गई। मृतकों में से एक की शिनाख्त राजवीर सिंह के रूप में हुई है। बाकी की पहचान करने के प्रयास किए जा रहे हैं। सिंह ने बताया कि शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए हैं। लखनऊ में एक सरकारी बयान के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद भदोही में सड़क दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


गृह सचिव भल्ला ने दिल्ली में स्थिति की जानकारी गृहमंत्री शाह को दी, बैठक में कई अधिकारी हुए शामिल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 26, 2021   18:34
  • Like
गृह सचिव भल्ला ने दिल्ली में स्थिति की जानकारी गृहमंत्री शाह को दी, बैठक में कई अधिकारी हुए शामिल

अधिकारी ने बताया कि गृह सचिव ने केन्द्रीय गृह मंत्री से मिलकर उन्हें राष्ट्रीय राजधानी के हालात और शांति बनाए रखने के लिए दिल्ली पुलिस द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी दी। बैठक में कुछ अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

नयी दिल्ली। केन्द्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने मंगलवार को दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड से जुड़ी स्थिति की जानकारी गृह मंत्री अमित शाह को दी। गौरतलब है कि किसानों की ट्रैक्टर परेड आज कई जगहों पर हिंसक हो गयी जिसके कारण पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा और आंसू गैस के गोले दागने पड़े। किसानों का एक समूह आज लाल किला भी पहुंच गया जहां उन्होंने किले के गुंबदों पर झंडे फहराये। इसके बाद यह बैठक हुई है। 

इसे भी पढ़ें: संयुक्त किसान मोर्चा ने ट्रैक्टर रैली के दौरान हिंसा से खुद को किया अलग, कहा- कुछ असामाजिक तत्वों ने घुसपैठ की 

अधिकारी ने बताया कि गृह सचिव ने केन्द्रीय गृह मंत्री से मिलकर उन्हें राष्ट्रीय राजधानी के हालात और शांति बनाए रखने के लिए दिल्ली पुलिस द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी दी। बैठक में कुछ अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। 

इसे भी पढ़ें: सरकार ने दिल्ली-NCR में किसानों के प्रदर्शन वाले स्थानों पर इंटरनेट सेवाएं की बंद 

केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली के कई हिस्सों में इंटरनेट सेवा पर अस्थाई रोक लगा दी है। लाठी-डंडे, हाथों में तिरंगा और यूनियन का झंडा लिए हजारों की संख्या में किसानों ने ट्रैक्टरों पर सवार होकर अवरोधक तोड़े और विभिन्न रास्तों से दिल्ली में प्रवेश करने के बाद लाल किला पहुंच कर उस ध्वज स्तंभ पर झंडा फहराया जहां 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री तिरंगा फहराते हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept