अलवर में भीड़ ने पीट पीटकर कर किशोर को उतारा मौत के घाट, जानिए क्या है पूरा मामला

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 21, 2021   02:23
अलवर में भीड़ ने पीट पीटकर कर किशोर को उतारा मौत के घाट, जानिए क्या है पूरा मामला
प्रतिरूप फोटो

राजस्थान के अलवर से एक दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है। जहां एक किशोर को भीड़ ने पीट पीटकर मौत के घाट उतार दिया। दरअसल किशोर की बाइक से एक 8 साल की बच्ची को टक्कर लग गई थी।

राजस्थान के अलवर से एक दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है। जहां एक किशोर को भीड़ ने पीट पीटकर मौत के घाट उतार दिया। दरअसल किशोर की बाइक से एक 8 साल की बच्ची को टक्कर लग गई थी। जिसके बाद गुस्साई भीड़ ने उसकी जमकर पिटाई की। किशोर की उम्र 17 साल बताई गई है। भीड़ ने इतनी बेरहमी से किशोर की पिटाई कि उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। बुरी तरह से घायल किशोर को पहले एक निजी अस्पताल ले जाया गया जिसके बाद उसे जयपुर के एसएमएस अस्पताल रेफर कर दिया गया।

इसे भी पढ़ें: राजस्थान के राज्यपाल ने 1971 युद्ध के नायकों को सम्मानित किया

किशोर की मौत के इस मामले को पहले मॉब लिंचिंग करार दिया गया था। यह घटना 15 सितंबर की है लेकिन अब यह मामला तूल पकड़ता जा रहा है। अब एनसीपीसीआर ने इस मामले में एसपी को नोटिस जारी किया है। इस मामले में आयोग ने मीडिया रिपोर्ट्स का भी संज्ञान लिया है।

एसपी से इस मामले में आयोग ने 10 दिन के अंदर रिपोर्ट मांगी है और साथ ही टेकन रिपोर्ट भी पेश करने को कहा है। वहीं मृतक किशोर के परिजनों से आयोग द्वारा जन्म प्रमाण पत्र भी मांगा गया है। 18 सितंबर को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को शव सौंपा गया। जिसके बाद उन्होंने हाईवे पर शव रखकर चक्का जाम किया और यह जाम 5 घंटे तक लगा रहा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।