• किसान दिल्ली और हरियाणा जाकर करें आंदोलन, पंजाब को हो रहा भारी नुकसान: अमरिंदर सिंह

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि किसान दिल्ली और हरियाणा में आंदोलन करें उनके पंजाब में धरना देने से प्रदेश की आर्थिकता को नुकसान हो रहा है।

चंडीगढ़। केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन पिछले नो महीने से जारी है। इसी बीच पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का बयान सामने आया। उन्होंने किसानों से दिल्ली और हरियाणा जाकर आंदोलन करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन से पंजाब को भारी नुकसान हो रहा है।  

इसे भी पढ़ें: सोनिया-राहुल के खिलाफ प्रचार से इनकार के बाद बीजेपी में कम होने लगी वरुण गांधी की हैसियत, अब किसानों के सहारे पार्टी का ध्यान खींचने में लगे 

उन्होंने कहा कि किसान दिल्ली और हरियाणा में आंदोलन करें। उनके पंजाब में धरना देने से प्रदेश की आर्थिकता को नुकसान हो रहा है। वहीं, पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने रविवार को मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को पत्र लिखकर किसानों की मांगों पर काम करने की मांग की, जिनमें आंदोलन के दौरान किसानों के खिलाफ दर्ज अनुचित प्राथमिकी को रद्द करने की मांग शामिल है।

इसे भी पढ़ें: सिद्धू ने CM अमरिंदर सिंह को लिखा पत्र, किसानों की मांगों पर काम करने का आग्रह किया 

सिद्धू ने पत्र में कहा कि किसान नेताओं ने राज्य में आंदोलन के दौरान हिंसा के मामलों के कारण किसान संघों के खिलाफ दर्ज अन्यायपूर्ण और अनुचित प्राथमिकी को रद्द करने की मांग की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और राज्य सरकार ने केन्द्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को समर्थन दिया है।