इंदौर के फेक पुलिस अधिकारी मामले में महिला तांत्रिक की हुई एंट्री, दोनों ने 20 लाख रुपए ठगे

इंदौर के फेक पुलिस अधिकारी मामले में महिला तांत्रिक की हुई एंट्री, दोनों ने 20 लाख रुपए ठगे

तांत्रिक सीमा उर्फ छोटू महाराज आरोपी रवि को महिलाओं से अपना बेटा बनकर मिलावाती थी। तांत्रिक महिला युवक को अंडरकवर ऑफिसर बताती थी। और ये भी जानकारी मिली है कि दोनों पर धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है।

भोपाल। मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में नकली सेंट्रल गवर्नमेंट का अंडरकवर पुलिस अधिकारी बनकर ठगी मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। बताया जा रहा है कि इस मामले में एक महिला तांत्रिक की एंट्री हुई है। पुलिस ने आरोपी रवि उर्फ राजवीर के एक और साथी महिला तांत्रिक सीमा उर्फ छोटू महाराज को भी गिरफ्तार कर लिया है।

इसे भी पढ़ें:बीजेपी नेता ने किया अपनी पत्नी का कत्ल, अश्लील वीडियो बनाकर करता था ब्लैकमेल 

बताया जा रहा है तांत्रिक सीमा उर्फ छोटू महाराज आरोपी रवि को महिलाओं से अपना बेटा बनकर मिलावाती थी। तांत्रिक महिला युवक को अंडरकवर ऑफिसर बताती थी। और ये भी जानकारी मिली है कि दोनों पर धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है।

पुलिस के मुताबिक महिला तांत्रिक ने कई युवतियों को अपना निशाना बनाया है। पुलिस के पास कई और युवतियां शिकायत मिली है। जहां तांत्रिक द्वारा आरोपी रवि को अपना बेटा बता कर मिलवती थी। तंत्र-मंत्र का अंधविश्वास भ्रम जाल फैलाकर महिलाओं से लाखों की ठगी करते थे।

इसे भी पढ़ें:6 महीने के लिए ट्रायल पर रखा बहु को, कहा- अगर बनना है परमानेंट बहु तो देनी होगी कार 

पुलिस ने आरोपी रवि के कई अलग-अलग विभाग के फर्जी आईडी कार्ड भी बरामद किया है। आरोपी युवक कभी खुद को पुलिस ऑफीसर एसआई बताता था तो कई महिलाओं को अंडरकवर ऑफिसर। कमिश्नर स्तर का अधिकारी बताकर अपने झांसी में लेकर धोखाधड़ी करता था। जहां शादी के लिए झांसा देकर अपनी मंगेतर से 8 लाख रुपए नगद और एक्टिवा की ठगी की थी। वहीं दूसरी महिला से 20 लाख  रुपए की धोखाधड़ी को अंजाम दे चुका है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।