बिहार की राजधानी पटना में सरकारी कार्यालयों में आग लगी, नीतीश मौके पर पहुंचे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 12, 2022   09:04
बिहार की राजधानी पटना में सरकारी कार्यालयों में आग लगी, नीतीश मौके पर पहुंचे
ANI Twitter.

स्थिति का जायजा लेने के लिए मौके पर पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह बहुत ही असामान्य बात है। आग सुबह लगी थी। मैं यह जानने के बाद यहां आया था कि आग बार-बार भड़क रही है। मैंने पहले कभी किसी सरकारी इमारत के इतनेलंबे समय तक आग की लपटों में रहने के बारे में नहीं सुना।’’

पटना| बिहार की राजधानी पटना स्थित विश्वेश्वरैया भवन में बुधवार को आग लग गयी। आग कई घंटे तक लगी रही लेकिन इसमें किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। यह एक विशाल बहुमंजिली इमारत है जिसमें सरकार के विभिन्न विभागों के कार्यालयों समेत कई महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों के कार्यालय भी स्थित हैं।

स्थिति का जायजा लेने के लिए मौके पर पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह बहुत ही असामान्य बात है। आग सुबह लगी थी। मैं यह जानने के बाद यहां आया था कि आग बार-बार भड़क रही है। मैंने पहले कभी किसी सरकारी इमारत के इतने लंबे समय तक आग की लपटों में रहने के बारे में नहीं सुना।’’

मुख्यमंत्री ने उम्मीद जतायी की कि आग पर काबू पा लिया जाएगा और आश्वासन दिया कि छह मंजिला इमारत के उपयोग के लिए उपयुक्त होने के बाद पर्याप्त सुरक्षा उपाय सुनिश्चित किए जाएंगे।

पटना के जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि सुरक्षा कर्मियों ने सुबह साढ़े सात बजे इमारत की पांचवीं मंजिल से धुआं निकलते देखा और दमकल विभाग को सूचना दी। उन्होंने बताया कि देर शाम तक, 50 से अधिक दमकल गाड़ियों के पानी का इस्तेमाल किया जा चुका था। उन्होंने कहा कि इमारत में रहने वाले किसी भी व्यक्ति को कोई शारीरिक नुकसान नहीं हुआ और दो बच्चों, जो अपने निर्माण श्रमिक माता-पिता के साथ आये थे और पांचवीं मंजिल पर फंस गए थे, उन्हें दमकल कर्मियों ने बचा लिया। दमकल विभाग की महानिदेशक शोभा अहोतकर ने कहा कि एक दमकलकर्मी आग बुझाने के कार्य के दौरान घायल हो गया और उसे अस्पताल भेज दिया गया। विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा, ‘‘इसकी जांच की जानी चाहिए कि यह आकस्मिक आग थी या कोई शरारत।’’

तेजस्वी के बड़े भाई तेज प्रताप यादव ने ट्वीट करके आरोप लगाया कि आग ने ‘‘55-60 घोटालों’’ से संबंधित सामग्री को नष्ट कर दिया है। तेजस्वी यादव ने पत्रकारों से बात करते हुए, दमकल विभाग में तैयारियों की स्पष्ट कमी पर भी कटाक्ष किया और दावा किया कि ‘‘ग्रामीण क्षेत्रों के लिए दमकल की गाड़ियों को सेवा में लगाया गया।

ये गाड़ियां मेरी मां राबड़ी देवी और मेरे स्थानीय विकास निधि से खरीदी गई हैं। हवाई अड्डे से दमकल की गाड़ियां भी मंगवाई गई हैं। बिहार में अग्नि सुरक्षा की स्थिति ऐसी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।