हिमस्खलन की घटना में लापता हुए थल सेना के 5 जवानों का अभी तक कोई अता-पता नहीं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 25, 2019   16:30
हिमस्खलन की घटना में लापता हुए थल सेना के 5 जवानों का अभी तक कोई अता-पता नहीं

हवलदार राकेश कुमार का पार्थिव शरीर उसी दिन बरामद कर लिया गया था जबकि पांच अन्य का अब भी कोई अता-पता नहीं है।

शिमला। हिमाचल प्रदेश में भारत-चीन सीमा पर स्थित शिपकी ला सीमा चौकी के पास गत बुधवार को हुई हिमस्खलन की घटना में लापता हुए थल सेना के पांच जवानों का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है। अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। बुधवार को पूर्वाह्न 11 बजे राज्य के किन्नौर जिले में शिपकी ला सीमा चौकी के पास यह घटना हुई थी। इसमें सेना की 7 जेएके राइफल्स के छह जवान (हिमाचल प्रदेश से चार, उत्तराखंड और जम्मू कश्मीर से एक - एक) हिमस्खलन होने से बर्फ में दब हो गए थे। हवलदार राकेश कुमार का पार्थिव शरीर उसी दिन बरामद कर लिया गया था जबकि पांच अन्य का अब भी कोई अता-पता नहीं है। 

इसे भी पढ़ें: पुडुचेरी के मुख्यमंत्री ने धरना किया खत्म, बेदी ने जतायी खुशी

एक जिला अधिकारी ने बताया कि लापता जवानों का पता लगाने के लिए एक अभियान जारी है। किन्नौर जिले की जन संपर्क अधिकारी ममता नेगी ने बताया कि पूह में मौसम साफ है लेकिन घटनास्थल के निकट आसमान में बादल छाये हुए है। उन्होंने बताया कि सोमवार की सुबह सात बजे राहत एवं बचाव अभियान फिर शुरू किया गया है। एक रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि सेना की पश्चिमी कमान राहत एवं बचाव अभियान की निगरानी कर रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।