दिल्ली कांग्रेस के पूर्व नेता तरविंदर सिंह मारवाह भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए

bjp
Google common license
पूर्व कांग्रेस विधायक तरविंदर सिंह मारवाह भाजपा में शामिल हुए।दिल्ली की जंगपुरा विधानसभा सीट से तीन बार कांग्रेस विधायक रहे मारवाह पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के संसदीय सचिव रह चुके हैं। तावड़े ने मारवाह का भाजपा में स्वागत करते हुए कहा कि उनकी क्षमता के अनुसार पार्टी उन्हें दायित्व देगी।

नयी दिल्ली। दिल्ली से कांग्रेस के पूर्व विधायक तरविंदर सिंह मारवाह ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया। भाजपा महासचिव विनोद तावड़े और पूर्व विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा सहित अन्य नेताओं की मौजूदगी में मारवाह ने पार्टी मुख्यालय में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। दिल्ली की जंगपुरा विधानसभा सीट से तीन बार कांग्रेस विधायक रहे मारवाह पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के संसदीय सचिव रह चुके हैं। तावड़े ने मारवाह का भाजपा में स्वागत करते हुए कहा कि उनकी क्षमता के अनुसार पार्टी उन्हें दायित्व देगी। पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद अपने संबोधन में मारवाह ने कहा कि जब तक उनके प्राण रहेंगे तब तक वह भाजपा की सेवा करते रहेंगे और वह भी बिना किसी पद व लालच के।

इसे भी पढ़ें: सीएम केजरीवाल ने किया दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल’ का ऐलान, जानिए कब होगा इसका आयोजन

उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की कड़ी आलोचना की और कहा कि देश की सबसे पुरानी पार्टी में नेताओं की कद्र नहीं है और पार्टी के लिए कुर्बानियां देने वालों को नजरअंदाज किया जाता है, इसलिए दुखी होकर उन्होंने कांग्रेस छोड़ने का फैसला किया। मारवाह ने कहा कि वह पिछले डेढ़ साल से राहुल गांधी से मिलने का समय मांग रहे हैं लेकिन आज तक उन्हें समय नहीं मिला। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘जो परिचारक बनने के लायक नहीं हैं, उन्हें प्रवक्ता बनाया जाता है...कई ऐसे महासचिव हैं जिन्हें कोई जानता तक नहीं...चुनाव हारने वालों को राज्यसभा में भेजा जाता है।’’ उन्होंने कांग्रेस के असंतुष्ट नेताओं के समूह जी-23 में शामिल नेताओं से भी आग्रह किया कि वह भाजपा में शामिल हो जाएं, जहां उन्हें सम्मान मिलेगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़