सांप दिखकर महिला से सोने का ब्रेसलेट लूटा, दो संपेरों को किया गया गिरफ्तार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 28, 2022   18:02
सांप दिखकर महिला से सोने का ब्रेसलेट लूटा, दो संपेरों को किया गया गिरफ्तार
Google common license

गुरुग्राम में सांप दिखकर महिला से ब्रेसलेट लूटने वाले संपेरे गिरफ्तार किए गए।उन्होंने बताया कि उनके पास से दो सांप और सोने का ब्रेसलेट बरामद किया गया है। पुलिस के मुताबिक मेघा जेटली नाम की एक महिला बुधवार को सनसिटी गोल्फ कोर्स में अपनी कार खड़ी कर जैसी उतरी वैसे ही एक आरोपी सांप लेकर उनसे पैसे मांगने पहुंच गया।

गुरुग्राम। हरियाणा के गुड़गांव में साधु का भेष धारण कर सांप दिखाकर एक महिला का सोने का ब्रेसलेट लूटने वाले दो संपेरों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बृहस्पतिवार को बताया कि आरोपियों की पहचान रोहित नाथ और फरमान नाथ के तौर पर हुई है और दोनों दिल्ली की सपेरा बस्ती के रहने वाले हैं। उन्हें बुधवार शाम को ग्वाल पहाड़ी इलाके से गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि उनके पास से दो सांप और सोने का ब्रेसलेट बरामद किया गया है। पुलिस के मुताबिक मेघा जेटली नाम की एक महिला बुधवार को सनसिटी गोल्फ कोर्स में अपनी कार खड़ी कर जैसी उतरी वैसे ही एक आरोपी सांप लेकर उनसे पैसे मांगने पहुंच गया।

इसे भी पढ़ें: राजद्रोह केस को लेकर बोले एनसीपी प्रमुख शरद पवार, निरस्त होना चाहिए यह कानून

जेटली ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया, “ मैं उसे 100 रुपये दिए। तभी दूसरा साधू भी सांप लेकर वहां आ गया और पैसे मांगने लगा। जब मैंने पैसे देने से इनकार किया तो उसने मेरा सोने का ब्रेसलेट मांगा और इसे झपट लिया।” उन्होंने कहा कि वह सांप से डर गई और आरोपी ब्रेसलेट लेकर फरार हो गए। पुलिस ने कहा कि सेक्टर 53 थाने में आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई। पूर्वी गुरूग्राम के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) वीरेंद्र विज ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। जनता के लिए परामर्श जारी करते हुए, डीसीपी ने कहा, इस संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है कि इस तरह के अपराध करने के लिए ऐसे और साधु शहर में घूम रहे हैं। उनसे डरें नहीं और तुरंत पुलिस को सूचित करें।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।