वैज्ञानिकों को प्रदूषणरहित पटाखे विकसित करने के लिए कहा गया है: हर्षवर्धन

Harsh Vardhan asks scientists to make Ecofriendly crackers for Diwali
केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘डॉ हर्षवर्धन ने छात्रों को बताया कि वैज्ञानिकों से ऐसे प्रदूषणरहित पटाखे विकसित करने के लिए कहा गया है जिनसे बच्चों की सेहत को नुकसान नहीं पहुंचे।’’

नयी दिल्ली। दिवाली से पहले केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि वैज्ञानिकों को ऐसे प्रदूषणरहित पटाखे विकसित करने के लिए कहा गया है कि जिनसे बच्चों की सेहत पर असर नहीं पड़े। पर्यावरण मंत्री ने यह बयान ऐसे समय में दिया है जब उच्चतम न्यायालय ने दिल्ली-एनसीआर में 31 अक्तूबर पर पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी है।

‘स्वच्छ हवा अभियान’ के तहत यहां ‘स्वच्छ हवा के लिए दौड़’ अभियान की शुरूआत करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदूषण के सभी दुष्प्रभाव बच्चों के लिए अधिकतम समस्या पैदा करते हैं। दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न स्कूलों के करीब 10,000 छात्रों ने इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

 

केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘डॉ हर्षवर्धन ने छात्रों को बताया कि वैज्ञानिकों से ऐसे प्रदूषणरहित पटाखे विकसित करने के लिए कहा गया है जिनसे बच्चों की सेहत को नुकसान नहीं पहुंचे।’’

 

इस अवसर पर हर्षवर्धन ने स्वच्छ हवा को बढ़ावा देने की प्रतिज्ञा भी दिलाई। पर्यावरण राज्य मंत्री महेश शर्मा ने इस मौके पर कहा कि ‘स्वच्छता’ एक सामूहिक प्रयास है। शर्मा ने कहा, ‘‘स्वच्छ हवा के मामले में हम जिस विरासत को छोड़कर जाएंगे वह बेहद अहम है।’’

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़