रेमडेसिविर इंजेक्शन,ऑक्सीजन और आवश्यक दवाओं की कालाबाजारी करने वाले की खैर नहीं, हेल्पलाईन नंबर हुआ जारी

रेमडेसिविर इंजेक्शन,ऑक्सीजन और आवश्यक दवाओं की कालाबाजारी करने वाले की खैर नहीं, हेल्पलाईन नंबर हुआ जारी

पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने बताया कि जिले में यदि कोई व्यक्ति, दुकानदार या संस्था आवश्यक दवाओं, ऑक्सीजन एवं रेमडेसिविर इंजेक्शन आदि की कालाबाजारी कर रहा है या उक्त वस्तुओं को निर्धारित मूल्य से अधिक दामों पर बेच रहा है तो हेल्पलाइन नंबरों पर अपनी जानकारी साझा कर सकता है।

रतलाम। कोरोना संक्रमण काल में कोरोना संक्रमित के उपचार हेतु वर्तमान में आवश्यक  जीवन रक्षक दवाओं, ऑक्सीजन एवं रेमडेसिविर इंजेक्शन आदि की आवश्यकता मेंं अप्रत्याशित वृद्धि हुई है, जिस कारण प्रदेश में कई स्थानों पर आवश्यक दवाओं, ऑक्सीजन एवं रेमडेसिविर इंजेक्शन की काला बाजारी व इनको निर्धारित मूल्य से अधिक मूल्य पर बिक्री किए जाने की घटना प्रकाश में आई है। जिसको लेकर अब प्रशासनिक तंत्र चौकंना हो गया है। जिसको लेकर हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है जिस पर लोग कालाबाजारी करने वालों की शिकायत कर सकते है।

 

इसे भी पढ़ें: शिवराज सरकार के ‘योग से निरोग’ अभियान पर कमलनाथ ने किए सवाल खड़े

रतलाम जिला पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने बताया कि जिले में यदि कोई व्यक्ति, दुकानदार या संस्था आवश्यक दवाओं, ऑक्सीजन एवं रेमडेसिविर इंजेक्शन आदि की कालाबाजारी कर रहा है या उक्त वस्तुओं को निर्धारित मूल्य से अधिक दामों पर बेच रहा है तो हेल्पलाइन नंबरों पर अपनी जानकारी साझा कर सकता है। उन्होंने बताया कि जानकारी पर पुलिस द्वारा सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी। अत: जनता से अपील है कि यदि उन्हें आवश्यक दवाओं, ऑक्सीजन दवाओं, आक्सीजन एवं रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी के संबंध में कोई जानकारी हो तो हेल्प लाइन नंबर 7049162265, 07412-270474 या 07412-222223 पर बगैर किसी भय के काल या वाट्सएप के माध्यम से सूचना से अवगत कराया जा सकता है, वही सूचनाकर्ता की पहचान गोपनीय रखी जाएगी। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...