राजनीति करने नहीं, सोये कुंभकर्ण को जगाने आया हूं: ठाकरे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 24, 2018   18:19
राजनीति करने नहीं, सोये कुंभकर्ण को जगाने आया हूं: ठाकरे

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राम मंदिर निर्माण को लेकर शनिवार को कहा कि वह कोई राजनीति करने नहीं आये हैं बल्कि सोये हुए कुंभकर्ण को जगाने आये हैं। ठाकरे ने यहां कहा, ''मैं राजनीति करने नहीं आया हूं। मैं श्री राम चंद्र का दर्शन करने आया हूं।

अयोध्या (उप्र)। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राम मंदिर निर्माण को लेकर शनिवार को कहा कि वह कोई राजनीति करने नहीं आये हैं बल्कि सोये हुए कुंभकर्ण को जगाने आये हैं। ठाकरे ने यहां कहा, 'मैं राजनीति करने नहीं आया हूं। मैं श्री राम चंद्र का दर्शन करने आया हूं। राम लला और हिन्दुत्व को क्या कभी हम भूल सकते हैं।' उन्होंने राम मंदिर निर्माण में विलंब को लेकर केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, 'श्रीराम जन्मभूमि में श्रीराम का मंदिर होना ही चाहिए । आज मैं सोये हुए कुंभकर्ण को जगाने आया हूं। कुंभकर्ण छह महीने सोता था और छह महीने जागता था... आज के कुंभकर्ण पिछले चार साल से सोये हुए हैं।' ठाकरे ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी जब प्रधानमंत्री थे, तब मिली जुली सरकार थी।

उस समय यह कार्य कठिन हो सकता था। लेकिन आज की सरकार ताकतवर सरकार है। 'केन्द्र में भी और उत्तर प्रदेश में भी... अध्यादेश लाना चाहते हैं लाइये, कानून बनाना चाहते हैं, कानून बनाइये। शिवसेना उसका पूरा समर्थन करेगी।' उन्होंने कहा कि दिन, महीने, साल और पीढियां निकल गयीं। उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा, 'मंदिर वहीं बनाएंगे लेकिन तारीख नहीं बताएंगे। पहले बताओ कि मंदिर कब बनाओगे। बाकी बात बाद में होती रहेगी।'





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।