IMA का प्रधानमंत्री को पत्र, बाबा रामदेव के खिलाफ देशद्रोह के तहत कार्रवाई की मांग

Baba Ramdev
अभिनय आकाश । Mar 27, 2021 7:00PM
इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा गया है। पत्र के जरिये आईएमए ने रामदेव के वैक्सीनेशन के खिलाफ झूठ प्रचार पर रोक लगाई जानी चाहिए। एक वीडियो में उन्होंने दावा किया कि वैक्सीन की दोनों खुराक लेने के बाद भी 10,000 डॉक्टर और लाखों लोग मारे गए हैं

योग गुरू बाबा रामदेव के ऐलोपैथी पर दिए बयान के बाद से ही उनके खिलाफ मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। विवाद बढ़ने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री की तरफ से उन्हें पत्र भी लिखा गया था। जिसके बाद उन्होंने अपना बयान वापस लेते हुए खेद भी जाताया। जिसके बाद भी बाबा रामदेव से जुड़ा विवाद कम होने का नाम नहीं ले रहा है। अब इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा गया है। पत्र के जरिये आईएमए ने रामदेव के वैक्सीनेशन के खिलाफ झूठ प्रचार पर रोक लगाई जानी चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: IMA और फार्मा कंपनियों को योग गुरु बाबा रामदेव का खुला खत, दागे 25 सवाल

पीएम मोदी को लिखे पत्र में आईएमए की तरफ से कहा गया है कि पतंजलि के मालिक रामदेव के टीकाकरण पर गलत सूचना के प्रचार को रोका जाना चाहिए। एक वीडियो में उन्होंने दावा किया कि वैक्सीन की दोनों खुराक लेने के बाद भी 10,000 डॉक्टर और लाखों लोग मारे गए हैं। उन पर देशद्रोह के आरोपों के तहत कार्रवाई की जानी चाहिए। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की तरफ से कहा गया है कि एक वीडियो में 10 लाख डॉक्टर और लाखों लोग की कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बावजूद मौत होने जैसा दावा किया गया है। उनके खिलाफ देशद्रोह के तेहत केस दर्ज किए जाने की बात भी आईएमए की तरफ से कही गई है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़