धर्मशाला में बेरोजगारी और गैर हिमाचलियों को सरकारी नौकरी देने व महंगाई के खिलाफ कांग्रेस नेताओं ने सरकार के खिलाफ रैली निकाल विरोध जताया

धर्मशाला में बेरोजगारी और गैर हिमाचलियों को सरकारी नौकरी देने व महंगाई के खिलाफ कांग्रेस नेताओं ने सरकार के खिलाफ रैली निकाल विरोध जताया

आज कांगड़ा जिला के धर्मशाला में भी बेरोज़गारी और हिमाचली युवाओं के साथ हो रहे अन्याय के ख़िलाफ़ प्रदेश सरकार के विरोध में जिला कांग्रेस कांगड़ा द्वारा प्रदर्शन किया गया । युवाओं के हितों के लिए इस तरह के विरोध प्रदर्शन कांग्रेस द्वारा हिमाचल के हर जिला स्तर पर हो चुके है ।

धर्मशाला। हिमाचल कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर  की अध्यक्षता में आज धर्मशाला में बेरोजगारी और गैर हिमाचलियों को सरकारी नौकरी देने व महंगाई के खिलाफ कांग्रेस नेताओं ने भाजपा सरकार के खिलाफ हल्ला बोला। कांग्रेस नेताओं ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया।  

 

 

कांगडा जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से आयोजित प्रदर्शन में  पूर्व सांसद श्रीमती विपल्व ठाकुर, कांग्रेस उपाध्यक्ष व विधायक पवन काजल, पूर्व सासंद व वरिष्ठ नेता चन्द्र कुमार, विधायक आशीष बुटेल, जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजय महाजन, अनुसूचित जाति विभाग के चैयरमेन यादविंदर गोमा, और अन्य कॉंग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता भी मौजूद रहे। कांग्रेस नेताओं ने शहीद स्मारक से डीसी आफिस तक सरकार के खिलापफ मार्च निकाला । व जमकर नारेबाजी की।

प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप राठौर  ने आरोप लगाया कि हिमाचल की जय राम ठाकुर सरकार प्रदेश के युवाओं से धोखा कर रही है। उन्होंने कहा कि चुनावों में सरकार बनने से पहले बेरोजगारों को रोजगार देने की बात करने वाली भाजपा आज प्रदेश के युवाओं की अनदेखी कर रही है। उन्होंने कहा कि  प्रदेश सरकार ने दूसरे राज्यों के लोगों को नौकरियां बांटकर युवाओं से अन्याय किया है। अभी हाल ही में जेई के पदों पर प्रदेश के अन्य लोगों की नियुक्तियां की गई हैं। यह प्रदेश के बेरोजगारों के साथ बहुत बड़ा धोखा हैं। जिसका खामियाजा प्रदेश सरकार आगामी 30 अक्टूबर को हो रहे उप-चुनावों में भाजपा सरकार को भुगतना पड़ेगा। सरकारी नौकरियों में जिस प्रकार प्रदेश के बेरोजगारों के साथ अन्याय किया जा रहा है, उसके खिलाफ कांग्रेस चुप नहीं बैठेगी। भाजपा की जनविरोधी नीतियों व कथनी व करनी के अंतर को जनता को बताएगी कि इस तरह से भाजपा ने उनके हितों के साथ खिलवाड़ किया है।

उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार देने बजाये नशे की ओर धकेला जा रहा है। नशे का कारोबार देश ही नहीं प्रदेश में बढ़ रहा है और नौजवानों को नशे की और धकेलने की एक बड़ी साजिश भी रची जा रही है। वहीं, राजनेताओं पर हमले भाजपा की नाकामियों को भी दर्शा रहे हैं। सुलह के पूर्व विधायक व कुल्लू में कांग्रेस नेताओं के साथ मारपीट इसके बड़े उदाहरण भी हैं। पुलिस सरकार के दवाब में काम कर रही है। जिससे कानून व्यवस्था चौपट होकर रह गई है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस उपचुनावों के लिए पूरी तरह से तैयार है और फतेहपुर के उपचुनाव से जीत हासिल कर आने वाले 2022 के चुनावों को लेकर भी एक बड़ा संदेश प्रदेश की जनता को देगी। इस उपचुनाव जीत के लिए कांग्रेस एकजुटता के साथ चुनाव मैदान में उतरेगी। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।