Prabhasakshi
बुधवार, सितम्बर 19 2018 | समय 17:56 Hrs(IST)

राष्ट्रीय

इस तरह राजस्थान में बीजेपी को जीत का ताज पहनाएंगे अमित शाह

By रेनू तिवारी | Publish Date: Sep 11 2018 3:42PM

इस तरह राजस्थान में बीजेपी को जीत का ताज पहनाएंगे अमित शाह
Image Source: Google

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज राजस्थान की यात्रा की और इसके साथ ही राजस्थान में विधानसभा चुनाव का बिगुल फूंका। राजस्थान में विधानसभा चुनाव की तैयारियों को पुख्ता करने के लिए भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह आज जयपुर पहुंचे। जयपुर में अमित शाह ने प्रसिद्ध मोती डूंगरी मंदिर में पूजा की और और गणेश भगवान का आशीर्वाद लेकर राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए कमर कसी और पूजा के बाद अमित शाह ने पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। इस संबोधन में अमित शाह ने राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला, अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल बाबा कहते हैं, कि कांग्रेस तीनों राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव को जीतेगी। लेकिन मुझे लगता है कि राहुल बाबा मुंगेरीलाल के हसीन सपने देख रहे हैं। अमित शाह ने अपने संबोधन के दौरान ये दावा किया कि तीन राज्यों में होने वाले चुनाव में जनता ने किसी पार्टी को या किसी दल को पूर्ण बहुमत का सरकार बनाने का मौका दिया तो वो कांग्रेस नही भारतीय जनता पार्टी होगी।  

अमित शाह ने अपने राजस्थान के दौरे के दौरान ये भी कहा कि राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी 'रामायण का अंगद का पांव है, उसे कोई उखाड़ नहीं सकता'। शाह ने राजस्थान को वीरों की भूमि कहा और कार्यकर्ताओं से अनुरोध किया कि राजस्थान में पार्टी के कार्यकर्ता समर्पित होकर काम करें। अमित शाह ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरीफ करते हुए कहा कि मोदी जी की लोकप्रियता ने जो वातावरण बनाया है उससे हमें चुनावो में बढ़त मिली है। कार्यकर्ताओं की तारीफ में उन्होंने कहा कि अगर बूथ का कार्यकर्ता सक्रिय नहीं होगा तो सब व्यर्थ है।

भाजपा अध्यक्ष ने अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कांग्रेस से सवाल पूछा कि कांग्रेस ने अपने नेता के बारें में अभी तक जनता को कुछ भी क्यों नहीं बताया कि, कांग्रेस राजस्थान में किसे मुख्यमंत्री पद का दावेदार मानती है। 

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के ये चुनावी सवाल तो ठीक है लेकिन आपको बता दें कि कांग्रेस ने बीजेपी को विधानसभा और लोकसभा चुनाव में कड़ी टक्कर देने की ठान ली है और वो कोई मौका नहीं  छोड़ना चाहती सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस की अगुवाई में 21 विपक्षी दलों ने 10 सितंबर को भारत बंद किया था क्योंकि देशभर में पेट्रोल और डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। 

आप को ये भी बता दें कि शाह की राजस्थान यात्रा पहले से तय थी और ऐसे में भारत बंद का होना अमित शाह की यात्रा को विफल कर सकता था इस चुनौती से निपटने के लिए राजस्थान सरकार ने पहले ही पेट्रोल और डीजल के दामों से वैट हटा दिया ताकि अमित शाह की यात्रा के दौरान ये मुद्दा फीका पड़ जाए और राजस्थान सरकार की ये चाल कामयाब भी हुई क्योंकि जहां देशभर में बंद का असर था वहीं राजस्थान का जनजीवन सामान्य था। 

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का राजस्थान का दौरा इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि अगर जमीनी हकीकत को देखा जाए तो राजस्थान बीजेपी के लिए बड़ी चुनौती बना हुआ है। जिन राज्यों में चुनाव होने हैं। उनमें सभी तरह के सर्वे में राजस्थान में कांटे की टक्कर दिखाई दे रही है या फिर बीजेपी पिछड़ती दिखाई दे रही है। ऐसे में बीजेपी के लिए राजस्थान जीतना एक बड़ी चुनौती बन गया है। और सरकार को अगर जनता का सामना करना है तो पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर भी जवाब देना होगा।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


शेयर करें: