आयकर विभाग ने राजकोट के रियल्टी समूह पर छापेमारी में 300 करोड़ के काले धन का पता लगाया

Income Tax Department
आयकर विभाग ने गुजरात के राजकोट की एक प्रमुख रियल एस्टेट कंपनी के कई परिसरों पर छापेमारी के बाद 300 करोड़ रुपये से अधिक के कथित काले धन का पता लगाया है। सीबीडीटी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

नयी दिल्ली। आयकर विभाग ने गुजरात के राजकोट की एक प्रमुख रियल एस्टेट कंपनी के कई परिसरों पर छापेमारी के बाद 300 करोड़ रुपये से अधिक के कथित काले धन का पता लगाया है। सीबीडीटी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। मंगलवार को छापेमारी की गयी और कंपनी के करीब 40 परिसरों की तलाशी में 6.40 करोड़ रुपये नकद और 1.70 करोड़ रुपये के जेवर जब्त किए गए। सीबीडीटी ने कहा कि तलाशी के दौरान मिले 25 लॉकरों पर रोक लगा दी गयी है।

इसे भी पढ़ें: एक दिन में एक करोड़ से अधिक कोविड-19 टीकों की खुराक दिया जाना महत्वपूर्ण उपलब्धि: पीएम मोदी

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने एक बयान में कहा, कुल मिलाकर, तलाशी और जब्ती अभियान की वजह से विभिन्न मूल्यांकन वर्षों में 300 करोड़ रुपये से अधिक की छिपी हुई आय का पता चला है, जिसके और बढ़ने की संभावना है। सीबीडीटी आयकर विभाग के लिए नीति तैयार करता है। उसने कहा, ‘‘जांच पड़ताल के दौरान कई संदेहास्पद दस्तावेज, डिजिटल सबूत तथा अन्य चीजें जब्त की गई हैं जो कि समूह के बिना लेखे वाले लेनदेन में शामिल होने की तरफ इशारा करती हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़