• चार दशक बाद भारत ने हॉकी में जीता मेडल, देश में उत्सव का माहौल, हर तरफ मनाई जा रही हैं खुशियां

अंकित सिंह Aug 05, 2021 09:51

खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि भारतीय हॉकी टीम को बहुत बधाई जिन्होंने 135 करोड़ भारतीयों के चेहरे पर खुशी लाईं। टीम ने अपने प्रदर्शन से पदक जीतकर 135 करोड़ भारतीयों का दिल भी जीता है।

भारत ने दो बार पिछड़ने के बाद जोरदार वापसी करते रोमांच की पराकाष्ठा पर पहुंचे कांस्य पदक के प्ले आफ मुकाबले में भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने जर्मनी को 5-4 से हराकर ओलंपिक में 41 साल बाद कांस्य पदक जीता। इसके साथ ही भारत का चार दशक का इंतजार भी खत्म हो गया। भारत ने हॉकी में चार दशक बाद कोई मेडल जीता है। इसके साथ ही देश में हर तरफ उत्साह और उत्सव का माहौल है। देशवासियों की ओर से खिलाड़ियां को बधाइयां दी जा रही हैं। इस सब के बीच राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि हमारी पुरुष हॉकी टीम को 41 साल बाद हॉकी में ओलंपिक पदक जीतने के लिए बधाई। ये ऐतिहासिक जीत हॉकी में एक नए युग की शुरुआत करेगी और युवाओं को खेल में आगे बढ़ने और उत्कृष्टता के लिए प्रेरित करेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ऐतिहासिक! एक ऐसा दिन जो हर भारतीय की याद में अंकित होगा। कांस्य पदक जीतने के लिए हमारी पुरुष हॉकी टीम को बधाई। भारत को अपनी हॉकी टीम पर गर्व है।

खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि भारतीय हॉकी टीम को बहुत बधाई जिन्होंने 135 करोड़ भारतीयों के चेहरे पर खुशी लाईं। टीम ने अपने प्रदर्शन से पदक जीतकर 135 करोड़ भारतीयों का दिल भी जीता है। 41 साल बाद भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने एक बार फिर मेडल जीता है इसके लिए उन्हें बहुत-बहुत बधाई। हॉकी में भारत की जीत के बाद खिलाड़ियों के घर के पास भी लोगों की भीड़ देखी जा रही है। लोगों उत्साह से भरपूर नजर आ रहे हैं। टीम के खिलाड़ी मंदीप सिंह के घर खुशियां मनाई गईं। मंदीप की मां ने बताया कि खिलाड़ियों की मेहनत आज सफल हुई। आज हम बहुत खुशियां मनाएंगे। अमृतसर में हॉकी खिलाड़ी गुरजंत सिंह के घर पर खुशियां मनाई गईं। भारतीय कप्तान मनप्रीत सिंह की मां ने कहा कि 41 साल बाद भारत जीती है ये बहुत खुशी की बात है। भगवान ने मेरी अरदास सुन ली। 

इसे भी पढ़ें: पीएम मोदी ने भारतीय पुरुष हॉकी टीम की जीत को ऐतिहासिक करार दिया, कहा- देश को टीम पर गर्व है

आखिरी पलों में ज्यों ही गोलकीपर पीआर श्रीजेश ने तीन बार की चैम्पियन जर्मनी को मिली पेनल्टी को रोका, भारतीय खिलाड़ियों के साथ टीवी पर इस ऐतिहासिक मुकाबले को देख रहे करोड़ों भारतीयों की भी आंखें नम हो गई। हॉकी के गौरवशाली इतिहास को नये सिरे से दोहराने के लिये मील का पत्थर साबित होने वाली इस जीत ने पूरे देश को भावुक कर दिया। इंफाल में हॉकी खिलाड़ी नीलकांत शर्मा के परिवार के सदस्य और पड़ोसी पुरुष हॉकी में टीम इंडिया की जीत का जश्न मनाते दिखाई दिए। वाराणसी में भी खुशियों का माहौल देखा जा रहा है।