पत्रकार संगठनों ने वेस्ट बैंक में अल जजीरा की पत्रकार के मारे जाने की निंदा की

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 15, 2022   08:37
पत्रकार संगठनों ने वेस्ट बैंक में अल जजीरा की पत्रकार के मारे जाने की निंदा की
Google Creative Commons.

संगठनों ने इस मामले में एक स्वतंत्र जांच की मांग भी की। इंडियन वूमेन प्रेस कॉर्प्स, प्रेस क्लब ऑफ इंडिया और प्रेस एसोसिएशन ने यहां एक संयुक्त बयान में कहा, हम अंतरराष्ट्रीय पत्रकार समुदाय और अन्य द्वारा इस घटना की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच की मांग का समर्थन करते हैं।

नयी दिल्ली| भारत के पत्रकार संगठनों ने वेस्ट बैंक के जेनिन में इजराइली सेना की छापामार कार्रवाई के दौरान अल जजीरा चैनल की एक महिला पत्रकार के मारे जाने की शनिवार को निंदा की।

संगठनों ने इस मामले में एक स्वतंत्र जांच की मांग भी की। इंडियन वूमेन प्रेस कॉर्प्स, प्रेस क्लब ऑफ इंडिया और प्रेस एसोसिएशन ने यहां एक संयुक्त बयान में कहा, हम अंतरराष्ट्रीय पत्रकार समुदाय और अन्य द्वारा इस घटना की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच की मांग का समर्थन करते हैं।

भविष्य में ऐसा दोबारा नहीं होना चाहिए। गौरतलब है कि शिरीन अबू अक्लेह (51) अरब जगत की एक चर्चित पत्रकार थीं। वह पिछले 25 वर्षों से अल जजीरा के सेटेलाइट चैनल के लिए इजराइली शासन में फलस्तीनी नागरिकों के जीवन पर रिपोर्टिंग करने के लिए जानी जाती थीं।

बुधवार को वेस्ट बैंक के जेनिन शहर में इजराइली सेना की एक कार्रवाई के दौरान गोली लगने से उनकी मौत हो गई थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।