• बिहार की तरह अन्य राज्यों में भी महागठबंधन बनाने की कोशिश में RJD, सहयोगियों को साधने में लगे तेजस्वी

अभिनय आकाश  Feb 27, 2021 19:04

असम में तेजस्वी ने बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना भी साधा है। उन्होंने कहा कि असम में जो लोग काबिज हैं उन्होंने अपने वादे को पूरा नहीं किया। इस बजट में असम के लिए कुछ नहीं है। हम लोग की असम में कोशिश है कि देश के कम्युनल फोर्स दोबारा सत्ता में आए न।

बिहार में बीजेपी-जदयू की जोड़ी को कड़ी टक्कर देने के बाद चुनाव में परास्त  हो चुके लालू के लाल तेजस्वी यादव के हौसले बेहद ही बुलंद नजर आ रहे हैं। अब बिहार से निकलकर तेजस्वी यादव अन्य राज्यों में भी पार्टी के लिए संभावनाएं तलाशते नजर आ रहे हैं। तेजस्वी यादव असम के दौरे पर हैं और सहयोगियों की तलाश में हैं। आगामी विधानसभा चुनाव के लिए असम में गठबंधन के गठन पर राजद नेता तेजस्वी यादव हमारी पार्टी राष्ट्रीय पार्टी हुआ करती थी, अब हम इसका विस्तार करना चाहते हैं। 

इस दौरान असम में तेजस्वी ने बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना भी साधा है। उन्होंने कहा कि असम में जो लोग काबिज हैं उन्होंने अपने वादे को पूरा नहीं किया। इस बजट में असम के लिए कुछ नहीं है। हम लोग की असम में कोशिश है कि देश के कम्युनल फोर्स दोबारा सत्ता में आए न। अब्बदुल बारी सिद्दीकी और श्याम रजक को असम की जिम्मेदारी दी गई है। हमारी कोशिश है आसाम आने का सेक्यिुलरिज्म की विचारधारा को ताकत देना। असम नॉर्थ ईस्ट का गेट-वे है। हम सभी का दायित्व बनता है कि असम से जुड़े जो मुद्दे हैं, जो समस्याएं हैं, जन आकांक्षाएं हैं, उन मुद्दों के साथ हम भी जनता के साथ खड़े हों।  हमारी पार्टी ने तय किया है कि हम असम विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। 

 तेजस्वी ने की बदरुद्दीन अजमल से मुलाकात

तेजस्वी यादव ने ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के प्रमुख बदरुद्दीन अजमल से मुलाकात की।  इस मुलाकात के दौरान दोनों दलों के बीच चुनाव में गठबंधन को लेकर भी चर्चा हुई। इस दौरान बदरुद्दीन अजमल ने पीएण मोदी और अमित शाह के असम दौरे पर कहा कि इससे मालूम पड़ता है कि उनकी गद्दी हिली हुई है। 

इसे भी पढ़ें: बिहार में शराबबंदी लागू रहेगी, कोई ढिलाई नहीं होगी: नीतीश कुमार

तेजस्वी तलाश रहे जगह

तेजस्वी यादव ने असम में डेरा डाला हुआ है। कहा जा रहा है उनकी कांग्रेस नेताओं संग मुलाकात हो चुकी है और उन्हें अपनी मंशा से तेजस्वी अवगत करा चुके हैं। तेजस्वी यादव को बदरुद्दीन अजमल की एआईयूडीएफ के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही कांग्रेस गठबंधन में अपने लिए जगह मिलने की उम्मीद है।