लोकसभा चुनाव: अन्नाद्रमुक-पीएमके के बीच चुनावी समझौता

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 25, 2019   18:04
लोकसभा चुनाव: अन्नाद्रमुक-पीएमके के बीच चुनावी समझौता

रामदास ने कहा, ‘‘हमारी मंशा है कि तमिलनाडु और इसके लोगों के अधिकार फिर से हासिल कर उन्हें बनाए रखा जाए।’’

चेन्नई। तमिलनाडु में सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक से अपने गठबंधन को लेकर आलोचना का सामना कर रही पट्टाली मक्कल काची (पीएमके) ने सोमवार को कहा कि विभिन्न मुद्दों पर तमिलनाडु के अधिकारों को फिर से हासिल करने और उन्हें बनाए रखने की मंशा से आगामी लोकसभा चुनावों के लिए गठबंधन किया गया। पीएमके की युवा इकाई के नेता अंबुमणि रामदास ने इस बात पर भी जोर दिया कि राज्य के मंत्रियों के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप अगर साबित हो जाते हैं तो पार्टी उनके खिलाफ कार्रवाई का समर्थन करेगी। रामदास ने कहा, ‘‘हमारी मंशा है कि तमिलनाडु और इसके लोगों के अधिकार फिर से हासिल कर उन्हें बनाए रखा जाए।’’

इसे भी पढ़ें: शर्मनाक ! 50,000 की रिश्वत मांगते भाजपा पार्षद पकड़ा गया

अन्नाद्रमुक के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप पर पीएमके के नए रुख पर रामदास ने कहा कि पार्टी इस मामले में अपनी पहले की स्थिति पर कायम है। गौरतलब है कि पीएमके ने राज्य के राज्यपाल को अर्जी देकर अन्नाद्रमुक नेताओं पर कार्रवाई की मांग की थी। उन्होंने कहा, ‘‘जहां तक राज्यपाल को दी गई अर्जी की बात है तो आरोप साबित होने पर कार्रवाई होनी चाहिए...मैं (संबंधित मंत्रियों के) इस्तीफा मांगने वाला पहला शख्स रहूंगा।’’ अन्नाद्रमुक ने पिछले गुरुवार को भाजपा और पीएमके के साथ गठबंधन किया और राज्य की कुल 39 लोकसभा सीटों में से भाजपा को पांच और पीएमके को सात सीटें दीं। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।