अल्पसंख्यक भाजपा के बहकावे में नहीं आ सकते: गोवा कांग्रेस प्रमुख

minorities-can-not-came-into-bjps-mischief-says-goa-congress-chief
गोवा कांग्रेस के प्रमुख गिरीश चूडांकर ने कहा है कि अल्पसंख्यकों को उनके खाने-पीने और पहनावे को लेकर भाजपा द्वारा पूर्व में की गई आलोचना को याद रखना चाहिए।

पणजी। गोवा कांग्रेस के प्रमुख गिरीश चूडांकर ने कहा है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा पार्टी नेताओं से अल्पसंख्यकों तक पहुंच बनाने को कहा जाना अल्पसंख्यक समुदाय को मूर्ख बनाने का प्रयास है। हालांकि, चूडांकर ने कहा कि अल्पसंख्यकों को ‘मूर्ख’ नहीं बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यकों को उनके खाने-पीने और पहनावे को लेकर भाजपा द्वारा पूर्व में की गई आलोचना को याद रखना चाहिए। केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाइक ने रविवार को कहा था कि पार्टी की ‘सर्व-समावेशी’ छवि बनाने के लिए शाह ने पिछले हफ्ते पार्टी के नेताओं से अल्पसंख्यक समुदायों तक पहुंच बनाने को कहा था।

इसे भी पढ़ें: AIIMS में उपचार के बाद गोवा लौटे मनोहर पर्रिकर, अग्नाशय की बीमारी है

चूडांकर ने इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, रविवार को जारी एक बयान में कहा, ‘अल्पसंख्यकों को मूर्ख नहीं बनाया जा सकता है और वे भाजपा की उस चुप्पी को नहीं भूलेंगे, जब सात अक्टूबर, 2004 को विश्व हिंदू परिषद ने उन्हें (अल्पसंख्यकों) गोवा में राहु-केतु कहा था।’ उन्होंने कहा कि भाजपा का चेहरा तब और उजागर हो गया जब उसने अल्पसंख्यकों की कपड़े पहनने और खाने की आदतों को लेकर उनकी जीवनशैली पर हमला करना शुरू कर दिया। चूडांकर ने यह भी दावा किया कि भाजपा और आरएसएस ने गोवा के मुख्यमंत्री पद के लिए तब उप मुख्यमंत्री फ्रांसिस डिसूजा को नजरअंदाज किया था जब मनोहर पर्रिकर को 2014 में रक्षामंत्री नियुक्त किया गया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़