फंक्शन में थूक लगाकर बना रहा था नान, वीडियो हुआ वायरल आरोपी गिरफ्तार

फंक्शन में थूक लगाकर बना रहा था नान, वीडियो हुआ वायरल आरोपी गिरफ्तार
प्रतिरूप फोटो

राज पैलेस फॉर्म हाउस में सगाई समारोह चल रहा था। इसी समारोह में नान बनाने के लिए मिनारा मस्जिद के सादाब को बुलाया गया था। उसे नान में थूक लगाते हुए किसी ने देख लिया और उसका वीडियो बना लिया गया। सूचना मिलते ही समारोह में अफरा-तफरी मच गई। आरोपी व्यक्ति को पकड़ लिया गया।

इंटरनेट पर इस वक्त एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक व्यक्ति थूक लगाकर नान बनाता हुआ दिख रहा है। यह वाक़िया मुरादनगर में रावली रोड के काकड़ा गाँव में स्थित एक फार्म हाउस का है जिसका नाम राज पैलेस फार्म हाउस है। थूक लगाते वक़्त  उस व्यक्ति का  वीडियो बना लिया गया, जो बाद में इंटरनेट पर वायरल हो गया।

 

हिंदू युवा वाहिनी ने  आरोपी के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून रासुका लगाने की मांग की है मामला सामने आने के बाद पुलिस ने केस दर्ज करके आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। गुरुवार दोपहर राज पैलेस फॉर्म हाउस पर  सगाई समारोह चल रहा था। इसी समारोह में नान बनाने के लिए मिनारा मस्जिद के सादाब को बुलाया गया था। उसे नान में थूक लगाते हुए किसी ने देख लिया और यह बात हिंदू युवा वाहिनी के जिला अध्यक्ष  आयुष त्यागी को बता दी गई उन्होंने उसका वीडियो बना लिया। सूचना मिलते ही समारोह में अफरा-तफरी मच गई। आरोपी व्यक्ति को पकड़ लिया गया।

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।  पुलिस  पुलिस में पूछताछ में आरोपी ने बताया कि  वह थूक लगाकर रोटी बना रहा था और यह भी बताया कि वह इस काम को सालों से करता आ रहा है।

थाना प्रभारी सतीश कुमार ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है और आगे की कार्रवाई की जाएगी।  इससे पहले आयुष त्यागी की अगुवाई में हिंदू युवा वाहिनी के लोग बड़ी तादाद में थाने पर जमा हुए,और आरोपी के खिलाफ रासुका लगाने की मांग की। लोगों ने इस घटना कि आलोचना की है। आपको बता दें कि पिछले साल भी मोदीनगर के दौसा गांव की शादी समारोह में ऐसा ही थूक लगाकर नान बनाने का मामला सामने आया था।  हाल ही में लोनी में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया था।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।