बालाकोट पर सरकार के निर्णय का सम्मान करने की आवश्यकता: आलोक कुमार

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 14 2019 4:11PM
बालाकोट पर सरकार के निर्णय का सम्मान करने की आवश्यकता: आलोक कुमार
Image Source: Google

विहिप प्रमुख दिवंगत अशोक सिंघल की स्मृति में आयोजित एक समारोह में शनिवार को कुमार ने उन लोगों पर सवाल उठाया जिन्होंने कहा था कि सैन्य बल और उनके अभियान का इस्तेमाल राजनीति करने या वोट पाने के लिए नहीं करना चाहिए।

ठाणे। विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार का कहना है कि पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकवादी शिविर पर भारतीय वायुसेना के हवाई हमले का जश्न मनाया जाना चाहिए क्योंकि यह सशस्त्र बलों की वीरता के साथ-साथ देश के राजनीतिक नेतृत्व के संकल्प को भी दर्शाता है। विहिप प्रमुख दिवंगत अशोक सिंघल की स्मृति में आयोजित एक समारोह में शनिवार को कुमार ने उन लोगों पर सवाल उठाया जिन्होंने कहा था कि सैन्य बल और उनके अभियान का इस्तेमाल राजनीति करने या वोट पाने के लिए नहीं करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: राममंदिर निर्माण पर बोले VHP प्रमुख, जहां हुआ था राम का जन्म वहीं बनेगा मंदिर

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके जवाब में भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकवादियों के ठिकानों पर हवाई हमले किए थे, जिसको लेकर विपक्ष लगातार राजग सरकार पर सवाल उठा रहा है। कुमार ने कहा कि भारतीय वायु सेना ने 1971 से अभी तक कभी सीमा पार नहीं की। इस बार, हमारी सेना ने सीमा पार की और आतंकवादी शिविरों को निशाना बनाया। वे कहते हैं कि इसका इस्तेमाल चुनाव के लिए ना किया जाए।

इसे भी पढ़ें: राममंदिर मामले में बोले आलोक कुमार, अब नहीं लगता सरकार लाएगी अध्यादेश



उन्होंने कहा कि भारतीय वायु सेना में दुश्मनों को मात देना का साहस हमेशा से था। यह सिर्फ इतना है कि मौजूदा राजनीतिक नेतृत्व ने संकल्प किया और सशस्त्र बलों को हवाई हमला करने के लिए कहा। इसका जश्न मनाया जाना चाहिए। सेना की वीरता की पूजा की जाने की जरूरत है और राजनीतिक निर्णय का भी सम्मान किए जाने की आवश्यकता है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video