अंडमान के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के नए टर्मिनल भवन का निर्माण जून 2022 तक होगा पूरा

VSI Airport
अधिकारियों ने कहा कि नए टर्मिनल भवन का निर्माण 40,000 वर्ग मीटर में किया जा रहा है। व्यस्त घंटों में यहां 1,200 यात्रियों को सेवाएं प्रदान की जा सकेंगी। इनमें से 600 घरेलू उड़ानों के तथा 600 अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के यात्री होंगे।

पोर्ट ब्लेयर। यहां के वीर सावरकर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे का नया एकीकृत टर्मिनल भवन अगले साल जून तक तैयार हो जाएगा। हवाईअड्डे के एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि अभी इस इमारत का काम चल रहा है। नई विश्वस्तरीय टर्मिनल इमारत की अनुमानित लागत 417 करोड़ रुपये बैठेगी। वीर सावरकर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के निदेशक जमील खलीक ने कहा कि नए टर्मिनल भवन का 83 प्रतिशत निर्माण पूरा हो गया है।

इसे भी पढ़ें: अंडमान-निकोबार में 24 घंटे में नहीं आया कोरोना का एक भी नया केस, स्वास्थ्य अधिकारी ने दी जानकारी

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) ने इस परियोजना के पूरा होने की तारीख जून, 2022 तय की है। नए टर्मिनल भवन का निर्माण पूरा होने से उड़े देश का आम आदमी (उड़ान) योजना को बढ़ाया मिलेगा। अधिकारियों ने कहा कि नए टर्मिनल भवन का निर्माण 40,000 वर्ग मीटर में किया जा रहा है। व्यस्त घंटों में यहां 1,200 यात्रियों को सेवाएं प्रदान की जा सकेंगी। इनमें से 600 घरेलू उड़ानों के तथा 600 अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के यात्री होंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़