महिला पुलिस कर्मियों की संख्या में 16% तक का इजाफा, बिहार में सबसे ज्यादा

महिला पुलिस कर्मियों की संख्या में 16% तक का इजाफा, बिहार में सबसे ज्यादा

कुल हिस्सेदारी की बात करें 1 जनवरी 2020 को महिला पुलिस कर्मियों की संख्या 10.3 फ़ीसदी पहुंच गई है। इसकी तुलना में देखे तो 1 जनवरी 2019 में पुलिस फोर्स में महिलाओं की हिस्सेदारी 8.9 फीसद थी। यह जानकारी ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च एंड डेवलपमेंट की ओर से दी गई है।

किसी भी राज्य में लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस बल की होती है। इस साल की बात करें तो केंद्र शासित प्रदेश और कई राज्यों में पुलिस कर्मियों में इजाफा देखा गया है। खास बात यह है कि इस इजाफे में महिला पुलिस कर्मियों की भी संख्या बढ़ी है। इस साल महिला पुलिसकर्मियों की संख्या में 16% की वृद्धि दर्ज की गई है। हालांकि अगर कुल प्रतिशत की बात करें तो अभी भी पुलिस में पुरुष वर्चस्व कायम है। लगातार पुलिस बल में हो रही महिला कर्मियों की भर्ती की हर तरफ तारीफ हो रही है। कुल हिस्सेदारी की बात करें 1 जनवरी 2020 को महिला पुलिस कर्मियों की संख्या 10.3 फ़ीसदी पहुंच गई है। इसकी तुलना में देखे तो 1 जनवरी 2019 में पुलिस फोर्स में महिलाओं की हिस्सेदारी 8.9 फीसद थी। यह जानकारी ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च एंड डेवलपमेंट की ओर से दी गई है।

इसे भी पढ़ें: पटना में कृषि कानूनों के खिलाफ राजभवन की ओर जा रहे प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज, कई जख्मी

महिलाओं की 25.3 फ़ीसदी हिस्सेदारी सबसे ज्यादा बिहार पुलिस में है। बिहार पुलिस में नागरिक पुलिस, जिला सशस्त्र रिजर्व, विशेष सशस्त्र पुलिस और भारत रिजर्व बटालियन आते हैं। बिहार के बाद सबसे ज्यादा महिला पुलिसकर्मियों की संख्या हिमाचल प्रदेश में है। यहां यह आंकड़ा 19.15 फ़ीसदी है। तीसरे नंबर पर चंडीगढ़ आता है। यहां महिला पुलिसकर्मियों की संख्या 18.78 फ़ीसदी है जबकि तमिलनाडु चौथे स्थान पर 18.5 फ़ीसदी के साथ बना हुआ है। सबसे कम महिला पुलिस कर्मियों की हिस्सेदारी जम्मू कश्मीर में है। यहां से 3.31 फ़ीसदी ही महिला पुलिसकर्मी है जबकि तेलंगाना में 5.11 फ़ीसदी महिला पुलिसकर्मियों की संख्या है।

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों के हाथों एनकाउंटर में मारे गए 203 आतंकवादियों में से 166 स्थानीय थे

सीएपीएफएस में महिला पुलिस कर्मियों की हिस्सेदारी सिर्फ 2.9 फ़ीसदी रही है। 9.9 लाख वाले केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों में महिलाओं की कुल संख्या 29239 है। सबसे ज्यादा सीआईएसएफ में 8631 महिलाएं हैं। सीआरपीएफ में महिलाओं की संख्या 7860 है जबकि बीएसएफ में सबसे कम 5130 है। इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि 2014 के बाद से लगातार पुलिस में महिला कर्मियों की हिस्सेदारी में बढ़ोतरी देखी गई है। 2014 में महिला पुलिसकर्मियों की संख्या 1.11 लाख थी जबकि वर्तमान में देखें तो यह बढ़कर 2.15 लाख तक पहुंच गई है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।