अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक प्रेजेंटेशन, प्रोफेसर जितेंद्र कुमार सस्पेंड

Aligarh Muslim University
अभिनय आकाश । Apr 06, 2022 4:54PM
प्रोफेसर ने रेपु के मुद्दे पर बनाए अपने प्रजेंटेशन में हिंदू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक बातें लिखी। प्रोफेसर की तरफ से लिखित में माफी मांग ली गई थी। पावर प्वाइंट प्रजेंटेशन मामले में आईपीसी की धारा 153ए, 295ए, 298 और 505 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में एक नया विवाद सामने आया है। प्रोफेसर ने रेपु के मुद्दे पर बनाए अपने प्रजेंटेशन में हिंदू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक बातें लिखी। जिसके बाद मामला बढ़ता देख प्रोफेसर डॉ जितेश कुमार को सस्पेंड कर दिया गया है। हालांकि प्रोफेसर की तरफ से लिखित में माफी मांग ली गई थी। पावर प्वाइंट प्रजेंटेशन मामले में आईपीसी की धारा 153ए, 295ए, 298 और 505 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। 

मांगी माफी 

असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर जितेंद्र कुमार ने लेक्चर के दौरान प्रोजेक्टर पर दर्शाए गए पॉइंट्स में एक धर्म की भावनाएं आहत करते हुए आपत्तिजनक बातें लिखीं, कथित तौर पर हिंदू देवताओं का संदर्भ दिया था। जिसके बाद इसकी फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल होने लगी। विवाद बढ़ता देख मेडिसिन फैकल्टी के डॉ कुमार ने एक बयान में कहा कि उनका इरादा छात्रों और कर्मचारियों की धार्मिक भावनाओं को आहत करने का नहीं था। 

इसे भी पढ़ें: मंडी में केजरीवाल और भगवंत मान का रोड शो, दिल्ली CM बोले- अब हिमाचल प्रदेश में भी 'क्रांति' होनी चाहिए

कारण बताओं नोटिस जारी

विश्वविद्यालय ने एक प्रोफेसर को कथित तौर पर अपनी प्रस्तुति के माध्यम से छात्रों और कर्मचारियों की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया था। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय प्रशासन और चिकित्सा संकाय की तरफ से बलात्कार के पौराणिक संदर्भ पर कुमार की तरफ से कही गई बातों को लेकर कड़ी निंदा करते हुए छात्रों, कर्मचारियों और नागरिकों की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए 24 घंटे में जवाब देने को कहा गया था।  

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़