कायर पाक ने कबूला, भारत में हमला करने के लिए हमारे विमानों ने पार की LOC

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 27, 2019   13:16
कायर पाक ने कबूला, भारत में हमला करने के लिए हमारे विमानों ने पार की LOC

इसका एकमात्र उद्देश्य हमारे अधिकारों, इच्छा और क्षमताओं को दिखाना था। हमारा मकसद तनाव को बढ़ावा देना नहीं है लेकिन अगर मजबूर किया गया तो हम इसके लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने बुधवार को कहा कि उसके विमानों ने ‘आत्मरक्षा’ के लिए नियंत्रण रेखा पार कर भारतीय क्षेत्र में हमला किया।  भारतीय अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तानी युद्धक विमानों ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर के पुंछ और नौशेरा सेक्टर में भारतीय हवाईक्षेत्र का उल्लंघन किया।  पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा, ‘‘ आज, पाकिस्तानी वायुसेना ने पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र में रहते हुए नियंत्रण रेखा के पार हमला किया।

कार्यालय ने कहा, ‘‘ पाकिस्तान ने इसलिए गैर सैन्य ठिकाने को निशाना बनाया और यह ध्यान में रखा कि किसी की जान न जाए और आसपास कोई नुकसान न हो। इसका एकमात्र उद्देश्य हमारे अधिकारों, इच्छा और क्षमताओं को दिखाना था। हमारा मकसद तनाव को बढ़ावा देना नहीं है लेकिन अगर मजबूर किया गया तो हम इसके लिए पूरी तरह से तैयार हैं।  कार्यालय ने कहा कि यह कार्रवाई एक स्पष्ट चेतावनी है और इसे दिन में किया गया है। पिछले कुछ वर्षों से कोई भी बहानेबाजी और कोई भी दिन चुनकर भारत आक्रमकता दिखाता रहा है।

इसे भी पढ़ें: ऑपरेशन बालाकोट के लिए इस वजह से इस्तेमाल हुआ मिराज 2000

इसने कहा, ‘‘यदि भारत सबूत के बिना तथाकथित आतंकी समर्थकों पर हमले कर रहा है तो हमें भी उन तत्वों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई करने का अधिकार है जो पाकिस्तान में आतंकी कृत्यों को अंजाम देते हैं और जिन्हें भारत का संरक्षण प्राप्त है। हम उस रास्ते पर नहीं जाना चाहते और उम्मीद करते हैं कि भारत परिपक्व लोकातंत्रिक राष्ट्र की तरह शांति को पनपने और मुद्दों के समाधान का मौका दे।’’ 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।