पारंपरिक सिगरेट से ज्यादा खतरनाक है ई-सिगरेट: फिरोज वरुण गांधी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 26, 2019   19:01
पारंपरिक सिगरेट से ज्यादा खतरनाक है ई-सिगरेट: फिरोज वरुण गांधी

पारंपरिक सिगरेट से ज्यादा खतरनाक है ई-सिगरेट क्योंकि इसमें निकोटिन की मात्रा कम नहीं होती लेकिन एक भ्रम फैलाया गया है कि इसमें कम निकोटिन होता है। इसमें मौजूद कई रसायन कैंसर को बढ़ावा देने वाले होते हैं। यह कम उम्र के युवाओं में लोकप्रिय हैः फिरोज वरुण गांधी, बीजेपी#WinterSession pic.





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।
Related Topics