हेमंत करकरे के खिलाफ प्रज्ञा ठाकुर के बयान से खराब हुई PM की छवि: शिवसेना

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 23 2019 7:16PM
हेमंत करकरे के खिलाफ प्रज्ञा ठाकुर के बयान से खराब हुई PM की छवि: शिवसेना
Image Source: Google

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में लिखा कि मोदी राष्ट्रीयता पर लोगों की भावनाएं जागृत करने के लिए सैनिकों की शहादत का उल्लेख कर रहे हैं और ऐसे समय में शहीदों को राष्ट्र विरोधी कहना उनकी छवि को धूमिल करता है।

मुम्बई। एटीएस के शहीद प्रमुख हेमंत करकरे के खिलाफ भाजपा नेता प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान को खारिज करते हुए शिवसेना ने मंगलवार को कहा कि इससे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की छवि को नुकसान हुआ है जो राजग के लिए काफी बेशकीमती हैं। शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में लिखा कि मोदी राष्ट्रीयता पर लोगों की भावनाएं जागृत करने के लिए सैनिकों की शहादत का उल्लेख कर रहे हैं और ऐसे समय में शहीदों को राष्ट्र विरोधी कहना उनकी छवि को धूमिल करता है। मालेगांव विस्फोट मामले में आरोपी ठाकुर ने हाल में दावा किया था कि 26/11 मुंबई आतंकवादी हमले के दौरान करकरे इसलिए मारे गए कि मेरा ‘उत्पीड़न’ करने के कारण मैंने उन्हें शाप दिया था।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: भाजपा विधायक को प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर आपत्ति,बोले- यह राजद्रोह है

प्रज्ञा भाजपा के टिकट पर भोपाल से लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं। शिवसेना ने कहा कि वह करकरे के खिलाफ ठाकुर के बयान का समर्थन नहीं करती है लेकिन मालेगांव विस्फोट मामले की जांच के दौरान पार्टी ने उनके समर्थन में बोला था। इसने कहा कि हमारी नीति है कि हिंदुओं को बदनाम नहीं किया जाना चाहिए और हिंदू आतंकवाद शब्द पर जोर नहीं दिया जाना चाहिए। तब हमने राजनीतिक दबाव में हो रही जांच के बारे में बोला था और केवल सामना ने खुलेआम साध्वी प्रज्ञा और (मामले में एक अन्य आरोपी) लेफ्टिनेंट कर्नल प्रसाद पुरोहित के समर्थन में बोला था।



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video