चन्नी ने नाराज सिद्धू से फोन पर की बात, बोले- सर्वोच्च होती है पार्टी, बैठकर करेंगे चर्चा

चन्नी ने नाराज सिद्धू से फोन पर की बात, बोले- सर्वोच्च होती है पार्टी, बैठकर करेंगे चर्चा

इसी बीच मुख्यमंत्री चन्नी ने नवजोत सिंह सिद्धू के विषय पर भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि अध्यक्ष पार्टी का हेड होता है, उसे मज़बूती से बात रखकर अपनी बात आगे लेकर आना होता है।

चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस में मचे घमासान के बीच में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कई बड़े ऐलान किया। उन्होंने कहा कि पंजाब के 53 लाख परिवार बिना बिलों के रह रही है क्योंकि वो लोग बिजली के बुल का भुगतान नहीं कर पाए थे। ऐसे में हम 2 किलोबाट तक वाले सभी बिजली बिल माफ कर दिए जाएंगे और उन्हें बिजली दी जाएगी। 

इसे भी पढ़ें: पंजाब को लेकर कांग्रेस में बवाल और राहुल निकले केरल दौरे पर 

उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार इन सभी लोगों के बिल भरेगी। इसके लिए सरकार पर 1200 करोड़ रुपए का अतिरिक्त भार आएगा। मुख्यमंत्री चन्नी ने स्पष्ट किया कि सभी बिल माफ किए जाएंगे, चाहे वो 10 साल पुराने क्यों न हों।

उन्होंने कहा कि एक बार बिजली के बिल माफ होने के बाद सभी उपभोक्ताओं को नियमित तौर पर बिजली का बिल जमा करना पड़ेगा। अभी जिन लोगों का बिल माफ कर रहे हैं वो गरीब परिवार से आते  हैं।  

इसे भी पढ़ें: सिद्धू ने तोड़ी चुप्पी, कहा- आलाकमान को नहीं कर रहा गुमराह, पंजाब हित में हर कुर्बानी देने को तैयार 

सिद्धू के विषय पर क्या बोले चन्नी

इसी बीच मुख्यमंत्री चन्नी ने नवजोत सिंह सिद्धू के विषय पर भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि अध्यक्ष पार्टी का हेड होता है, उसे मज़बूती से बात रखकर अपनी बात आगे लेकर आना होता है। मैंने आज भी नवजोत सिंह सिद्धू से फोन पर बात की है कि पार्टी सर्वोच्च होती है। सरकार पार्टी की विचारधारा को मानती है और उस पर चलती है। आप आईये बैठकर बात कीजिए। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...