बच्चों के यौन शोषण को रोकने को प्राथमिकता दी जानी चाहिए: चन्द्रशेखर

Rajeev Chandrasekhar says Curbing sexual exploitation of kids should be given priority
देश में बच्चों विशेषकर नाबालिग लड़कियों के व्यावसायिक यौन शोषण को लेकर चिंतित राज्यसभा सदस्य राजीव चन्द्रशेखर ने राजनीतिक प्राथमिकता के अनुरूप इस मुद्दे को नहीं उठाये जाने पर खेद व्यक्त किया।

नयी दिल्ली। देश में बच्चों विशेषकर नाबालिग लड़कियों के व्यावसायिक यौन शोषण को लेकर चिंतित राज्यसभा सदस्य राजीव चन्द्रशेखर ने राजनीतिक प्राथमिकता के अनुरूप इस मुद्दे को नहीं उठाये जाने पर खेद व्यक्त किया। सांसद ने कहा कि हालांकि व्यक्तियों और नागरिक समाज द्वारा किये गये प्रयास ‘‘नेकनीयत’’ वाले हैं और इस खतरे को केवल ‘‘संस्थागत दृष्टिकोण’’ के रूप में उठाया जा सकता है।

चन्द्रशेखर ने कहा कि विभिन्न सरकारों द्वारा ‘‘ वर्षों से अनदेखी’’ किये जाने के कारण यह मुद्दा ‘‘व्यापक’’ अनुपात में बढ़ा है। राज्यसभा सदस्य ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में बच्चों के व्यावसायिक यौन शोषण के खिलाफ एक राष्ट्रीय कार्यवाही योजना की शुरूआत की।

इस मौके पर मुम्बई में स्थित टाटा सामाजिक विज्ञान संस्थान (टीआईएसएस) के चेयर प्रोफेसर पी एम नैयर भी मौजूद थे। चन्द्रशेखर ने कहा कि बच्चों के व्यावसायिक यौन शोषण के मुद्दे को ‘‘राजनीतिक प्राथमिकता बनाया जाना चाहिए।’’ 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़