बीटिंग रिट्रीट के साथ गणतंत्र दिवस समारोह संपन्न, 1971 के युद्ध की याद में विशेष धुन शामिल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 29, 2021   19:30
बीटिंग रिट्रीट के साथ गणतंत्र दिवस समारोह संपन्न, 1971 के युद्ध की याद में विशेष धुन शामिल

इसके अलावा नौसेना, वायु सेना और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) का एक-एक बैंड भी कार्यक्रम में शामिल हुआ। ऐतिहासिक विजय चौक पर 26 संगीत कार्यक्रमों ने दर्शकों का मन मोह लिया।

नयी दिल्ली। बीटिंग रिट्रीट कार्यक्रम के साथ ही शुक्रवार को गणतंत्र दिवस समारोह संपन्न हो गया और इस दौरान पाकिस्तान के खिलाफ 1971 के युद्ध में भारत की जीत के 50 साल पूरे होने के मौके पर विशेष धुन स्वर्णिम विजय को भी शामिल किया गया। इस बार के कार्यक्रम में 15 मिलिट्री बैंड और इतनी ही संख्या में पाइप एवं ड्रम बैंड भी शामिल किए गए थे। इसके अलावा नौसेना, वायु सेना और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) का एक-एक बैंड भी कार्यक्रम में शामिल हुआ। ऐतिहासिक विजय चौक पर 26 संगीत कार्यक्रमों ने दर्शकों का मन मोह लिया।

सबसे पहले एक बैंड ने स्वर्णिम विजय थीम के साथ कार्यक्रम पेश किया। यह पाकिस्तान के खिलाफ 1971 के युद्ध में भारत की जीत के 50 साल पूरे होने के मौके पर विशेष धुन थी। उसी युद्ध के बाद बांग्लादेश का निर्माण हुआ। समारोह का समापन लोकप्रिय सारे जहां से अच्छा धुन के साथ हुआ। एईसी ट्रेनिंग कॉलेज और केंद्र के लेफ्टिनेंट कर्नल गिरीश कुमार यू समारोह के मुख्य संचालक थे। बीटिंग रिट्रीट सदियों पुरानी एक सैन्य परंपरा है। यह उन दिनों में शुरू हुई थी जब सूर्यास्त होते ही सैनिक युद्ध के मैदान से हट जाते थे। जैसे ही बिगुल की आवाज आती थी, सैनिक लड़ाई बंद कर देते थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।