दिग्विजय सिंह के रामधुन क्रायक्रम में लहराया भगवा ध्वज

दिग्विजय सिंह के रामधुन क्रायक्रम में लहराया भगवा ध्वज

कांग्रेस के कार्यकता भगवा झंडा लहरा रहे थे। जहां एक तरफ कांग्रेस का झंडा था तो वहीं दुरसी तरफ भगवा ध्वज।

भोपाल। राजधानी भोपाल से बीजेपी के विधायक रामेश्वर शर्मा की सद्बुद्धि के लिए रामधुन करने जा रहे राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह को पुलिस ने बीच रास्ते में रोक दिया। जिसके बाद दिग्विजय सिंह व उनके साथ आए हजारों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता सड़कों पर ही 'रघुपति राघव राजा राम' भजन का गान करते दिखे।

इसे भी पढ़ें:एमपी बीजेपी की 2 दिवसीय बैठक, विधायक केंद्र, राज्य की योजनाओं पर देंगे फीडबैक 

वहीं इस काफिले में ये भी देखा गया कि कांग्रेस के कार्यकता भगवा झंडा लहरा रहे थे। जहां एक तरफ कांग्रेस का झंडा था तो वहीं दुरसी तरफ भगवा ध्वज। जानकारी के मुताबिक पता चला कि इससे पहले भी जब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने मां नर्मदा की परिक्रमा की थी तब भी ऐसे ही भगवा ध्वज लहराया गया था।

आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह के काफिले के मिंटो हॉल से निकलने से पहले ही रामेश्वर शर्मा के घर की तरफ आने वाले सभी रास्तों पर पुलिस ने बैरिकेड्स लगा रखे थे। पुलिस हेड क्वार्टर से राजभवन जाने वाला रास्ता, युवा सदन से विधानसभा जाने वाला रास्ता, विधानसभा से राजभवन वाला रास्ता, रौशनपुरा से विधायक निवास जाने वाला रास्ता और तमाम ऐसे रास्ते बंद कर दिए गए थे।  

इसे भी पढ़ें:रामेश्वर शर्मा के स्वागत द्वार तक नहीं पहुंच सके दिग्गी राजा, सड़क पर ही गाई रामधुन 

उधर रामेश्वर शर्मा ने कहा है कि हम तो दिग्विजय सिंह और उनके साथियों का इंतजार कर रहे थे। लेकिन वे खुद नहीं आए। हम तो यहां हलवा पूड़ी बनाकर रखे हुए हैं। पुलिस लगाने की बात पर शर्मा ने कहा कि रामभक्तों को कौन रोक सकता है। रामभक्तों के लिए तो खुद भगवान राम रास्ते बनाते हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।