स्मृति ईरानी ने छुए मुलायम सिंह यादव के पैर, ऐसा था नेताजी का रिएक्शन, देखें वीडियो

mulayam smriti
अंकित सिंह । Jan 31, 2022 6:17PM
भले ही इसे नेताओं के बीच का शिष्टाचार माना जाए लेकिन उत्तर प्रदेश चुनाव में इस तस्वीर के अलग सियासी मायने निकाले जा सकते हैं। माना जा रहा है कि भाजपा इस तस्वीर को लेकर यादवों को अपने पक्ष में करने की कोशिश करेगी और उन्हें बड़ा सियासी संदेश भी देगी।

एक ओर जहां उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर प्रचार का शोर है तो दूसरी और नेताओं का मेल मिलाप भी जा रही है। उत्तर प्रदेश में भाजपा और समाजवादी पार्टी के बीच जुबानी जंग जारी है। लेकिन आज संसद में एक अच्छी तस्वीर देखने को मिली। आज संसद के बजट सत्र का पहला दिन था। समाजवादी पार्टी के संरक्षक और उत्तर प्रदेश के कद्दावर नेता मुलायम सिंह यादव संसद भवन आ रहे थे। उसी रास्ते से केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी गुजर रही थीं। दोनों नेताओं का आमना-सामना हुआ। स्मृति ईरानी ने मुलायम सिंह यादव का अभिवादन करते हुए उनके पैर छुए। मुलायम सिंह यादव ने भी स्मृति ईरानी के सिर पर अपना हाथ रखा और आशीर्वाद दिया।

भले ही इसे नेताओं के बीच का शिष्टाचार माना जाए लेकिन उत्तर प्रदेश चुनाव में इस तस्वीर के अलग सियासी मायने निकाले जा सकते हैं। माना जा रहा है कि भाजपा इस तस्वीर को लेकर यादवों को अपने पक्ष में करने की कोशिश करेगी और उन्हें बड़ा सियासी संदेश भी देगी। फिलहाल मुलायम सिंह यादव और स्मृति ईरानी का यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल भी हो रहा है। इतना ही नहीं, स्मृति ईरानी सीढ़ियों से उतरने में मुलायम सिंह यादव को सहारा देती हुई भी दिखाई दे रही हैं। फिलहाल स्मृति ईरानी और मुलायम सिंह यादव का यह वीडियो लोगों को खूब भा रहा है और उस पर जमकर प्रतिक्रियाएं भी आ रही हैं। स्मृति ईरानी के साथ मुख्तार अब्बास नकवी भी दिखाई दे रहे हैं। मुख्तार अब्बास नकवी मुलायम सिंह यादव को सीढ़ियों से उतरने में मदद भी कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: क्या बजट 2022 में क्रिप्टोकरेंसी पर लगेगा कर? जानिए क्या कह रहे हैं कर विशेषज्ञ

दूसरी ओर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सपा-बसपा-कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि यूपी में फिर भारी बहुमतों से भाजपा की सरकार बन रही है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यूपी में भाजपा सरकार आ रही है। उन्होंने कहा कि जनता को ज्ञात है और भाजपा के प्रति विश्वास है, जबकि सपा-बसपा-कांग्रेस में बौखलाहट है। स्मृति ईरानी ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी चुनाव से पहले ‘गायब’ थी और अब भी ‘गायब’ है क्योंकि उसने चुनावों में हार को ‘स्वीकार’ कर लिया है। उन्होंने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी के ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ अभियान पर कटाक्ष किया और राहुल गांधी पर परोक्ष रूप से हमला करते हुए कहा, ‘‘प्रियंका संकेत दे रही हैं कि घर में एक लड़का है, जो लड़ नहीं सकता।’’ 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़